सुपर 5000 योजना से छात्र को मिलेगा 25000 का लाभ

मध्य प्रदेश सरकार ने मध्यप्रदेश भवन एवं संनिर्माण कर्मकार कल्याण मंडल में पंजीबद्ध श्रमिकों के पुत्र और पुत्रियों के लिए सुपर 5000 योजना का शुभ आरंभ किया है, इस योजना से हितग्राहियो को ₹25000 एकमुश्त राशि का नगद पुरस्कार मिलेगा. इस सुपर 5000 योजना सिर्फ श्रमिकों के पुत्र और पुत्रियों को मिलेगा. इस सुपर 5000 योजना में सिर्फ मध्य प्रदेश मूल निवासी ही लाभ हो.

सुपर 5000 योजना का लाभ कैसे मिलेगा? 

सुपर 5000 योजना के लाभ के लिए निम्नलिखित पात्रता  पूरी होना चाहिए
  • आवेदक मध्य प्रदेश का मूल निवासी होना चाहिए.
  • आवेदक के पिता या माता मध्यप्रदेश भवन एवं अन्य सन्निर्माण कर्मकार कल्याण मंडल मैं श्रमिक के रूप में पंजीकृत होना चाहिए 
  • वर्ष 2018 में आवेदक 10वीं या 12वीं की 2018 में परीक्षा उत्तीर्ण होना चाहिए. 
  • आवेदक वर्तमान में किसी स्कूल या कॉलेज में अध्ययनरत होना चाहिए

सुपर 5000 स्कीम का लाभ लेने के लिए हमें कौन- कौन से दस्तावेजों की आवश्यकता होगी? 

सुपर 5000 योजना का लाभ लेने के लिए आवेदक के पास नीचे गए डॉक्यूमेंट होगा चाहिए.
  • माता या पिता का श्रमिक विभाग द्वारा जारी किया गया, श्रम कार्ड होना चाहिए 
  • आवेदक की राष्ट्रीयकृत बैंक की पासबुक. 
  •  वर्तमान में अध्यन कर रहे संस्था के प्रमाण पत्र 
  • वर्ष 2018 में आवेदक 10वीं या 12वीं की 2018 में परीक्षा उत्तीर्ण होना चाहिए. 
  • आवेदक वर्तमान में किसी स्कूल या कॉलेज में अध्ययनरत होना चाहिए


सुपर 5000 योजना में आवेदन कैसे करें? 

आवेदन करने के लिए आवेदक को आवेदन पत्र  जिला श्रम विभाग कार्यालय से प्राप्त करने होंगे, प्राप्त आवेदन को ऊपर दिए गए सभी दस्तावेजों के साथ संलग्न करके  22 जनवरी तक जिला श्रम विभाग कार्यालय में जमा कराने हो. 

सुपर 5000 योजना में  चयन कैसे होगा? 

मध्यप्रदेश में प्राप्त आवेदनों की मेरिट लिस्ट तैयार कर प्रथम 5000 विद्यार्थियों को ₹25000 की राशि पुरस्कार के रूप में उनके अकाउंट में ट्रांसफर कर दी जाएगी तथा उन आवेदकों की  सूची श्रम विभाग  की वेबसाइट पर उपलब्ध करा दी जाए.

टिप्पणियां

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

ग्वालियर; कोरोना संक्रमित ने किया आत्महत्या का प्रयास, अस्पताल की तीसरी मंजिल से कूदा, गंभीर घायल