भारत में पेट्रोल पंप कैसे खोलें ?

भारत में पेट्रोल पंप कैसे खोलें :भारत में पेट्रोल पंप के आउटलेट खोलने के लिए हमको भारत पैट्रोलियम, इंडियन आयल, हिंदुस्तान पैट्रोलियम एवं रिलायंस पैट्रोलियम से संपर्क करना पड़ता है डिजिटल इंडिया के तहत आप पेट्रोल पंप खोलने के लिए हमको पेट्रोलियम कंपनियों के चक्कर नहीं लगाने पड़ते पेट्रोलियम कंपनियों के विज्ञापन समाचार पत्रों में एवं पेट्रोलियम कंपनियों की वेबसाइट पर उपलब्ध  समय-समय पर उपलब्ध कराए जाते हैं

पेट्रोल पंपों के आउटलेट खोलने के लिए आप सिर्फ ऑनलाइन इस वेबसाइट https://www.petrolpumpdealerchayan.in/ के माध्यम से आवेदन करके पेट्रोल पंप खोल सकते हैं 


पेट्रोल पंप डीलरों का चयन


पेट्रोल पंप डीलरों का चयन दो प्रकार से होता है प्रथम बोली लगाकर और द्वितीय लकी ड्रॉ द्वारा चयन की प्रक्रिया से 
पेट्रोल पंप के विज्ञापन में आवेदन करने से पूर्व भी लिखी जाती है कि इस पेट्रोल पंप के आवेदन में किस प्रकार की चयन प्रक्रिया की बोली लगाकर या लकी ड्रॉ द्वारा

पेट्रोल पंप खोलने के लोकेशन


पेट्रोल पंप खोलने के लिए पेट्रोलियम कंपनियां सबसे पहले अपनी लोकेशन तय करती है वह लोकेशन राजमार्ग या राष्ट्रीय मार्ग पर होती है जिन लोकेशन पर पेट्रोल पंपों की आवश्यकता होती है उन लोकेशनओं का नाम समाचार पत्रों एवं वेबसाइट पर उपलब्ध करती है, पेट्रोलियम कंपनियां पेट्रोल पंप खोलने के लिए अन्य किसी  लोकेशन पर आउटलेट खोलने की अनुमति देते हैं आप अपनी इच्छा से अपनी जगह पर पेट्रोल पंप नहीं खोल सकते हैं

पेट्रोल पंप खोलने के लिए आवेदक की क्या-क्या योग्यता होना चाहिए?

पेट्रोल पंप खोलने के लिए आवेदक  की  निम्नलिखित योग्यता  होना चाहिए- 


  • आवेदक मध्य आवेदक भारत का निवासियों
  • आवेदक की आयु 21 वर्ष से 60 वर्षों के मध्य हो  
  • आवेदक कम से कम 10 वीं पास
  • पेट्रोल पंप खोलने के लिए आवेदक पर खुद की जमीन या परिवार के नाम जमीन या 20 साल से अधिक की लिस्ट वाली जमीन यहां किराए पर ली गई जमीन पर पेट्रोल पंप खोल सकता है


आरक्षण

पेट्रोल पंप डीलरों के चयन आरक्षण पद्धति से होता है सामान्य  जाति के लिए 50.50% का आरक्षण, ओबीसी के लिए 27% का आरक्षण, अनुसूचित जाति एवं जनजाति के लोगों के लिए 22.50% आरक्षण है

आवेदन शुल्क:

आवेदन शुल्क पेट्रोलियम कंपनियों ने पेट्रोल पंप को दो चरणों में बांटा है  
  • रेगुलर पेट्रोल पंप के जनरल के आवेदकों को सामान्य वर्ग के  ₹10000 को, पिछड़ा वर्ग के आवेदकों को ₹5000 एवं अनुसूचित जाति एवं जनजाति के आवेदकों को ₹3000 आवेदन शुल्क के रूप में जमा करानी होती है जो की पूर्णता non-refundable रहती है
  • ग्रामीण आउटलेट डीलर बनने के लिए आवेदक को आवेदन शुल्क सामान्य जाति के लोगो को आवेदन   शुल्क ₹8000 पिछड़ा वर्ग के जाति को आवेदन शुल्क ₹4000 और अनुसूचित जाति एवं जनजाति के लोगों को ₹2000 नॉन रिफंडेबल फीस जमा करना होती है

लाइसेंस फीस


लाइसेंस फीस आवेदकों लाइसेंस फीस फीस प्रति लीटर के हिसाब से जमा करनी होती है तो समय-समय पर पेट्रोलियम कंपनी द्वारा जारी की जाती है.

पेट्रोल पंप खोलने के लिए आवेदन कैसे करें:



पेट्रोल पंप खोलने के लिए आवेदन आप पेट्रोलियम विभाग की  https://www.petrolpumpdealerchayan.in/ इस वेबसाइट पर जाकर आप ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं.
ऑनलाइन करते समय आपको किन-किन दस्तावेजों की आवश्यकता होगी ऑनलाइन करते समय आपको निम्नलिखित दस्तावेजों की आवश्यकता होगी.

  •  फोटो 
  • आधार कार्ड 
  • भूमि स्वामित्व का प्रमाण पत्र (यदि उपलब्ध हो तो) 
  • जाति प्रमाण पत्र पैन कार्ड (यदि उपलब्ध हो तो)
  • बैंक की पासबुक या बैंक स्टेटमेंट
  • पेन कार्ड 

पेट्रोल पंप के  रखरखाव एवं निर्माण कार्य पेट्रोलियम कंपनियों द्वारा कराया जाता है पेट्रोलियम कंपनी द्वारा आपसे सुरक्षा निधि 200000 से 1000000 तक जमा कराई जाती है जो नियमानुसार लागू होती है इसके अलावा पेट्रोलियम कंपनियां पेट्रोल पंप बनाने में किसी भी प्रकार का और कोई पैसा नहीं लेती है 

पेट्रोल पंप खोलने का लाभ:


पेट्रोल पंप कितने रुपए का है मार्जन पेट्रोल पंप खोलने के लिए पेट्रोल पेट्रोल एवं डीजल बेचने पर पेट्रोल पंप डीलर को 50 पैसे से ₹3 प्रति लीटर तक का मार्जन दिया जाता है राज्य  के अनुसार मार्जन बदलता रहता है अधिक जानकारी के लिए आप पेट्रोलियम विभाग के अधिकारी से संपर्क कर सकते हैं

टिप्पणियां

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सरकार बताए मुर्ति का साईज छोटा करने से कैसे रुकेगा कोरोना: जगवीर दास