मेहंदीपुर बालाजी संपूर्ण दर्शन


मेहंदीपुर बालाजी मंदिर के संपूर्ण दर्शन: दोस्तों आज हम आपके सामने इस आर्टिकल के माध्यम से मेहंदीपुर के संपूर्ण दर्शन कराने की कोशिश करेंगे तो सबसे पहले हम जानते हैं कि मेहंदीपुर बालाजी मंदिर किस  देवता का मंदिर है? मेहंदीपुर बालाजी महाराज का मंदिर हनुमान जी महाराज का मंदिर है. मेहंदीपुर बालाजी महाराज का मंदिर राजस्थान के दोसा और करौली जिले के मध्य मेहंदीपुर ग्राम पंचायत में स्थित है 

मेहंदीपुर बालाजी महाराज दर्शन विधि

मेहंदीपुर बालाजी महाराज का मंदिर हनुमान जी महाराज का मंदिर है मेहंदीपुर में  बालाजी महाराज के दर्शन के लिए सर्वप्रथम आपको स्नान कर कर ₹ 5 की दर्खास्त लेकर, सुबह मंदिर के पट खुलने से लेकर 11:00 बजे तक लगा सकते हैं. उसके बाद आपके मन में कोई मनोकामना हो तो आप ₹ 181 की अर्जी लगा सकते हैं अर्जी लगाने का समय सुबह 11:00 बजे तक ही रहता है यदि आपने जो मनोकामना मांगी है और पूरी हो जाती है तो आपको सवामनी कराना होती है सवामणी मंगलवार और शनिवार को ही होती है.
जैसे ही आप मेहंदीपुर बालाजी महाराज के दर्शन के लिए लाइन में लगेगी, सर्वप्रथम आपको मेहंदीपुर बालाजी महाराज के दर्शन होंगे मेहंदीपुर बालाजी मेहंदीपुर बालाजी महाराज के दर्शन के बाद, आपको भैरव बाबा के दर्शन, प्रेतराज सरकार, दीवान सरकार के दर्शन होगे, मेहंदीपुर बालाजी महाराज के दर्शन के बाद श्री गणेश पुरी महाराज के दर्शन करना अति आवश्यकताएं श्री गणेश पुरी महाराज के यदि कोई व्यक्ति दर्शन नहीं करता तो आस्था है जी मेंहदीपुर महाराज बालाजी महाराज की आज के दर्शन पूर्ण नहीं माने जाते हैं श्री गणेश पुरी महाराज को जलेबी का भोग लगाया जाता है
मेहंदीपुर बालाजी महाराज के दर्शन के लिए प्रतिदिन 20 से 30 हजार भक्तो की भीड़ आती हैं इस भीड़  को कंट्रोल करने के लिए मेहंदीपुर बालाजी ट्रस्ट के द्वारा दो भागों में दर्शन करने की व्यवस्था होती है इस मंदिर में दर्शन करने के लिए कोई भी शार्ट रास्ता नहीं है आपको सिर्फ कतार में लगते ही दर्शन करने होते हैं पर मंदिर के आसपास के कुछ लोग आप से 500 प्रति व्यक्ति के हिसाब से दर्शन जल्दी कराने का लालच देकर ५०० लेते हैं वह मंदिर के पीछे के रास्ते से आपको मुख्य द्वार के पास छोड़ देते हैं उसके बाद आपको लाइन में लगकर दर्शन करना होते हैं

मेहंदीपुर बालाजी महाराज का प्रमुख चमत्कार

मेहंदीपुर बालाजी महाराज का प्रमुख चमत्कार क्या है मेहंदीपुर बालाजी महाराज वैसे तो  घट-घट की बात जानते हैं और आपकी हर मनोकामनाएं पूरा करते हैं पर फिर भी वैज्ञानिक दृष्टि से यहां पर कुछ ऐसे चमत्कार देखने को मिलते हैं जिसको देखकर आप प्रथम  क्षण में ही मेंहदीपुर महाराज जी के लिए नतमस्तिक  हो जाएगी, बालाजी महाराज की नाभि से जल निकलता है इस जल को प्रसादी के रूप में आरती के बाद छींटे के रूप में भक्तों के बीच उपलब्ध कराया जाता है छींटे पाकर भक्तों के अंदर एक अद्भुत मानसिक शांति उत्पन्न होती है तथा उनके जो भी दुःख  होते हैं वह क्षण भर में दूर हो जाते हैं
साथी कई लोग मानसिक बीमारियों से शिकार व्यक्ति बिना किसी इलाज के मंदिर के दर्शन करते सही हो जाते हैं  

मेहंदीपुर बालाजी महाराज के दर्शन बिना लाइन

यदि आप मेहंदीपुर बालाजी महाराज के दर्शन बिना लाइन में लगे करना चाहते हैं तो सबसे सरल उपाय हैं मेंहदीपुर महाराज जी के मंदिर के सामने  राम दरबार मंदिर स्थित है जिस की सीडी पर खड़े होकर आप पल भर में मेहंदीपुर बालाजी की दर्शन पा सकते हैं राम दरबार मंदिर से आपको मेहंदीपुर बालाजी महाराज के स्पष्ट दर्शन हो गए.

मेहंदीपुर बालाजी में रुकने एवं खाने की व्यवस्था


मेहंदीपुर बालाजी में रुकने की व्यवस्था है मेहंदीपुर बालाजी धाम में कई धर्मशालाएं, कई होटल है बने हुए हैं जिसमें आप नि:शुल्क से लेकर ₹2000 प्रतिदिन के हिसाब से  ठहर सकते हैं फ्री में रुकने का स्थान राजस्थान सरकार द्वारा हर जिले में रैन बसेरा के निर्माण किया गया है जिसमें कोई भी व्यक्ति रात में बनाकर इसके सी खुशी रुक सकता है जान बसाया दोबारा उनको रजाई गद्दे आदि सभी चीजें फ्री में उपलब्ध कराई जाती है 
मेहंदीपुर बालाजी में खाने की व्यवस्था मेहंदीपुर बालाजी धाम में दर्शनार्थियों के लिए निशुल्क भोजन से लेकर ढाई सौ रुपए प्रति थाली तक भोजन उपलब्ध है यह भोजन पूर्णता प्याज एवं लहसुन रहित रहता है क्योंकि बालाजी महाराज के उपासक प्याज और लहसुन का सेवन नहीं करते निशुल्क भोजन मिलने का  एक मात्र स्थान कलकत्ते वाली धर्मशाला है यहां पर आरती के बाद सभी भक्तों को निशुल्क भोजन के पैकेट उपलब्ध कराए जाते हैं



टिप्पणियां

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

प्रदेश में मजदूर कमीशन बनेगा, छोटे काम करने वालों को मिलेंगे 10 हजार रुपए