पोस्ट

अप्रैल, 2020 की पोस्ट दिखाई जा रही हैं

उद्धव ने पीएम मोदी से लगाई गुहार, महाराष्ट्र में हस्तक्षेप करें नहीं तो खड़ा होगा सियासी संकट

चित्र
मुंबई। महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को फोन कर गुहार लगाई है कि महमाराष्ट्र के राजनीतिक संकट में हस्तक्षेप करें नहीं तो यहां सियासी संकट खड़ा हो जाएगा। पीएम मोदी ने उन्हें जल्द से जल्द मामले को हल कराने का आश्वासन दिया है। कोरोना संकट के बीच मुख्यमंत्री ठाकरे की कुर्सी भी डगमगाने लगी है। महाराष्ट्र कैबिनेट ने दो बार उद्धव ठाकरे को एमएलसी नामित करने के लिए प्रस्ताव पास कर भेजा, लेकिन राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने अभी तक कोई फैसला नहीं लिया है।
सूत्रों ने बताया कि बुधवार को उद्धव ठाकरे ने पीएम नरेंद्र मोदी को फोन किया। उन्होंने पीएम मोदी को महाराष्ट्र के सियासी संकट से अवगत कराते हुए कहा कि राज्य में कोरोना संकट चरम पर है। इसी बीच राज्य में राजनीतिक अस्थिरता पैदा करने की कोशिश की जा रही है। महाराष्ट्र जैसे इतने बड़े राज्य में राजनीतिक अस्थिरता सही नहीं है, इससे आम जनता में गलत संदेश जाएगा। ठाकरे ने पीएम मोदी से इस विषय पर गौर करने का आग्रह किया है। बताया जा रहा है कि उद्धव की बातें सुनकर पीएम मोदी ने उन्हें मामले को जल्द देखने की बात कही है। बता दें …

कोरोना पर नई गाइडलाइन 4 मई से लागू होगी, मिली सकती हैं कुछ रियायतें

चित्र
नई दिल्ली। कोरेानावायरस रूपी महामारी से दुनिया हलकान है। भारत में भी इससे निपटने के लिए सरकार जी-जान से जुटी है। इसके संक्रमण को रोकने के लिए लॉकडाउन को बढ़ाकर तीन मई तक कर दिया गया था। अब इसकी भी अवधि समाप्त होने वाली है। इस बीच, बुधवार को गृह मंत्रालय की प्रवक्ता ने बताया कि 4 मई से नई गाइडलाइंस प्रभावी हो जाएंगी। इसका मतलब साफ है कि तीन मई के बाद भी लॉकडाउन में पूरी तरह से छूट नहीं दी जाएगी। कुछ रियायतों के साथ लॉकडाउन को बढ़ाया जा सकता है।
इससे पहले बुधवार शाम में गृह मंत्रालय ने लॉकडाउन में फंसे प्रवासी मजदूर, छात्र, तीर्थयात्री और सैलानियों को अपने-अपने राज्यो में वापस जाने की इजाजत दे दी। हालांकि इसके लिए राज्य की सहमति की जरूरत होगी। गृह मंत्रालय की तरफ से जारी किए गए दिशानिर्देश के अनुसार दूसरे राज्यों में जाने की इजाजत सिर्फ बसों के माध्यम से ही मिलेगी और घर पहुंचने के बाद उन्हें क्वारंटीन में रहना होगा।

भगवान चित्रगुप्तजी की जयंती पर जरूरत मंदो को बांटा राशन

चित्र
ग्वालियर। भगवान चित्रगुप्त की जयंती पर प्राकृतिक चिकित्सालय एवं महाविद्यालय समिति ने कायस्थ समाज के जरूरतमंद लोगों को राशन का वितरण किया। इस अवसर मुख्य अतिथि के रूप में मौजूद अखिल भारतीय कायस्थ प्रचारक समन्वयक रामसेवक श्रीवास्तव ने कहा कि मीना शर्मा और ब्रजेश श्रीवास्तव द्वारा गरीब और जरूरत मंद लोगों की ऐसे समय मदद की जा रही है जब उन्हें इसकी सवसे ज़्यादा जरूरत है। क्योंकि कोरोना के कारण लोगो की आमदनी शून्य हो गई और गरीब वर्ग को खाने का संकट पैदा हो गया है।
संस्था सचिव मीना शर्मा ने कहा कि आज प्रभु चित्रगुप्त जी की जयंती पर कायस्थ समाज को कोई भी परिवार भूख न रहे इसलिए आज समाज के जरूरतमंद लोगों को राशन का वितरण किया गया है। मेरे विचार में प्रभु चित्रगुप्त जी की जयंती पर यह सच्ची पूजा है।
कार्यक्रम के अंत में संस्था अद्यक्ष ब्रजेश श्रीवास्तव ने कहा उनकी संस्था ने कोरोना महामारी के कारण पैदा हुई परिस्थितियों में कोई भूखा न रहे इसलिये राशन वितरण करने का निर्णय किया था तभी सभी समाज के जरूरतमंद लोगों की मदद कर रहे हैं।

हाईकोर्ट ने कहा- अवैध तरीके से यात्रा कर रहे लोगों को रोकने क्या कार्रवाई की

चित्र
ग्वालियर। शहरों की सीमाओं से लोगों द्वारा अवैध तरीके से प्रवेश करने के मामले में हाईकोर्ट ने चिंता जताई है। मप्र हाईकोर्ट की प्रिंसिपल बेंच ने बुधवार को सुनवाई के दौरान मप्र शासन से पूछा कि अवैध तरीके से यात्रा कर रहे लोगों को रोकने के संबंध में क्या कार्रवाई की गई है। चीफ जस्टिस अजय कुमार मित्तल और जस्टिस विजय कुमार शुक्ला की डिवीजन बेंच ने कहा कि ट्रक व यातायात के अन्य साधनों के माध्यम से लोग एक जगह से दूसरी जगह जा रहे हैं, जो कि गलत है। यात्रियों व वाहन चालकों की स्क्रीनिंग के बाद ही उन्हें शहर की सीमा में प्रवेश दिया जाए।

सोशल डिस्टेंसिंग और नियमों का पालन न करने पर चार लोगों पर एफआईआर

चित्र
ग्वालियर। शहर में लोग सुधरने को तैयार नहीं हैं। कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव के लिए भीड़भाड़ रोकने दस पॉइंट पर सब्जी मंडी शुरू की गईं हैं। राशन के थोक और खेरिज व्यापार के दिन अलग-अलग कर दिए गए, लेकिन फिर भी हालात नहीं सुधर रहे। मंगलवार को गोरखी सब्जी मंडी में हालात बिगड़ गए तो इसे देर रात बंद करने का आदेश जारी हो गया। अब बुधवार को तिलक नगर सब्जी मंडी में भीड़ उमड़ पड़ी। भीड़ बढ़ने पर पुलिस ने लाठी के जोर पर यहां से लोगों को खदेड़ा। दुकानदारों ने सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं कराया, इसलिए चालान काटे गए। यही हालात शहर के अलग-अलग बाजारों में भी रहे। लॉकडाउन तोड़ने वाले चार लोगों पर एफआईआर दर्ज की गई।

दौलतगंज स्थिति चित्रगुप्त धाम में भगवान चित्रगुप्त का हुआ श्रृंगार, जयंती आज

चित्र
ग्वालियर। भगवान चित्रगुप्त जी की जयंती से एक दिन पहले दौलतगंज स्थिति चित्रगुप्त धाम में बुधवार को श्रृंगार किया गया। चूंकि इसबार मंदिर में सामूहिक कार्यक्रम का आयोजन नही किया जाएगा। इसलिए मंदिर प्रबंधन ने समाज के सभी सदस्यों से अपील की है कि घरों पर ही प्रभु चित्रगुप्त जी की पूजा-अर्चना करें।
समाज के विरष्ठ सदस्य एवं पूर्व जीडीए अध्यक्ष अभय चौधरी ने समाज से अपील करते हुए कहा कि वे अपने-अपने घरों पर रहकर ही सुबह 10 बजे भगवान चित्रगुप्त जी की पूजा-अर्चना कर हवन-यज्ञ, चित्रगुप्त चालीसा का पाठ, स्तुत एवं आरती अवश्य करें। इसके साथ ही सायं 7 बजे दीपक जलाएं और पूजा करते हुए एवं दीपक जलाते हुए फोटो सोशल मीडिया पर सभी के साथ साझा करें। उन्होंने कहा कि इसके साथ ही अपनी सामर्थ्य के अनुसार गरीब व जरूरतमंद लोगों को भोजन या अन्य मदद भी कर सकते हैं। इस अवसर पर अरुण कुलश्रेष्ठ, अशोक निगम, राजेश्वर राव, एमपी श्रीवास्तव, एसबीएल श्रीवास्तव, आकश श्रीवासतव, रामसेवक श्रीवास्तव, सुरेंद्र खरे, आकाश श्रीवास्तव, अमित स्क्सेना, दीपक श्रीवास्तव, महेंद्र श्रीवास्तव, संजीव कुलश्रेष्ठ ने सभी से कहा कि यह व्यवस्था प्…

अभिनेता इरफान खान का निधन

चित्र
मुंबई। पानसिंह तोमर , इंग्लिश मीडियम जैसी फिल्मों से अपनी कला का नायाब प्रदर्शन करने वाले अभिनेता इरफान खान का दुखद निधन हो गया। वे पिछले कुछ समय से केंसर जैसी घातक बीमारी से जूझ रहे थे। उन्हें
2 दिन पहले कोकिलाबेन हॉस्पिटल के आईसीयू वार्ड भर्ती किया गया था। जहाँ उन्होंने आज अंतिम सांस ली।

मुख्यमंत्री शिवराज का फोटो कोरोना से निपटने वाले काढ़े के पैकट पर छापने पर विवाद

चित्र
ग्वालियर । दुनिया देश और प्रदेश कोरोना संकट से जूझ रहा है। हालाँकि अभी तक वैज्ञानिक इसकी कोई कारगर दवा ढूंढ़ने का दावा नहीं कर सकें है लेकिन मध्यप्रदेश सरकार कुछ आयुर्वेदिक सामग्री के पैकेट निशुल्क घर घर बाँट रही है।  दावा किया जा रहे है कि इस आयुर्वेदिक सामग्री का काढ़ा बनाकर  पीने से लोगोनो में रोग प्रतिरोधी क्षमता विकसित होगी जिससे कोरोना वायरस का संक्रमण नहीं होगा। हालाँकि इस काढ़े को लेकर कोई विवाद नहीं है लेकिन उनके पैकेट पर  लगे मुख्यमंत्री शिवराज सिंह के फोटो का मामला सोशल मीडिया पर खूब ट्रोल हो रहा है। लोगो का कहना है कि महामारी के दौर में भी नेताओं की प्रचार की भूख नहीं मिटती .

बाजार में नहीं गलियों में दोपहर 2 बजे तक खुलेंगी दुकानें

चित्र
ग्वालियर। शहर की कॉलोनियों के अलावा रहवासी सोसाइटियों व एन्क्लेव में जरूरी सामग्री की दुकानें दोपहर दो बजे तक खुल सकेंगी। कलेक्टर कौशलेंद्र विक्रम सिंह ने मंगलवार को धारा-144 के प्रभावी आदेश में इस तरह के कुछ संशोधन किए हैं। यह आदेश 30 अप्रैल तक जारी रहेगा। कलेक्टर के मुताबिक अब ग्रामीण क्षेत्र की तरह शहर में भी निर्माण प्रारंभ हो सकेंगे। ऐसे स्थानों पर काम करने वाले अधिकारी-कर्मचारियों को पास जारी करने का काम संबंधित विभाग करेगा।
ग्रामीण क्षेत्र की तरह ही शहर में भी टायर, पंचर, कृषि उपकरण से संबंधित दुकानें सुबह 6 बजे से दोपहर 2 बजे तक खुल सकेंगी। खराब मौसम के कारण किसानों की फसल को नुकसान न हो, इसलिए तिरपाल व रस्सी की दुकानें भी दोपहर 2 बजे तक खुलेंगी। सरकारी निर्माण कार्यों के लिए सामग्री जैसे रेत, बजरी, लोहे के सरिए एवं अन्य सामान की थोक सुबह 10 से दोपहर दुकानें 2 बजे तक खुलेगीं।

नई व्यवस्था: कंटेनमेंट क्षेत्र में अब सीसीटीवी कैमरे से निगरानी

चित्र
ग्वालियर। बाहरी लाेगाें की आवाजाही पर पूरी तरह राेक लगाने के लिए पहली बार कंटेनमेंट एरिया (हाॅट स्पाॅट ) को सीसीटीवी कैमरे से लैस किया गया है। बहोड़ापुर स्थित मुबारक हुसैन की नारायण विहार कॉलोनी में जिला प्रशासन ने चार नाइट विजन कैमरे लगाए हैं। इनकी मदद से दिन-रात काॅलाेनी पर नजर रखी जा रही है। इन सीसीटीवी कैमरों की 20 दिन की रिकार्डिंग को सुरक्षित रखा जा सकता है। जिम्मेदार अफसराें का कहना है कि भविष्य में जहां भी कंटेनमेंट एरिया बनेगा, वहां कोरोना पीड़ित संक्रमित मरीज की गली में सीसीटीवी कैमरों से निगरानी की जाएगी।
अभी तक संक्रमित क्षेत्र के सभी मार्गाें पर बेरिकेड लगाकर रास्ते बंद किए जाते थे, लेकिन आईसीएमआर की नई गाइडलाइन ने कंटेनमेंट एरिया का दायरा कम पर दिया है। अब एडमिनिस्ट्रेटिव बाउंड्री ऑफ रेसिडेंसल कॉलोनी ही कंटेनमेंट एरिया कहलाएगी। इस कारण सुरक्षा व निगरानी के लिए प्रशासन कैमराें की मदद ले रहा है। कंटेनमेंट एरिया में लगे सीसीटीवी कैमरे के फुटेज जिला और पुलिस प्रशासन के बड़े अधिकारी अपने मोबाइल देख सकते हैं। इस तरह वे कंटेनमेंट एरिया की सीधी माॅनीटरिंग कर सकेंगे। मंगलवार रात 10 ब…

चीन ने कहा कि कोरोना पर हमें कटघरे में खड़े करने से कुछ नही मिलेगा

चित्र
पेइचिंग। कोरोना वायरस महामारी पर दुनियाभर में आलोचना का केंद्र बने चीन के खिलाफ अब अंतरराष्ट्रीय जांच की मांग उठने लगी है। इससे झल्लाते हुए चीन ने कहा कि कोरेाना पर हमें कटघरे में खड़े करने पर कुछ नहीं मिलेगा। उसने सोमवार को कहा कि इस तरह की जांच का कोई कानूनी आधार नहीं है और अतीत में ऐसी महामारियों की जांच के कोई ठोस नतीजे नहीं आए हैं। कोरोना वायरस ने पूरी दुनिया में करीब तीस लाख लोगों को संक्रमित किया है और इसने अब तक दो लाख से से अधिक लोगों की जान ली है। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के अलावा ब्रिटेन, ऑस्ट्रेलिया और जर्मनी की चांसलर एंजेला मर्केल ने कोविड-19 के स्रोत को लेकर चीन से अधिक पारदर्शिता की मांग की है। ट्रंप ने वायरस के स्रोत की जांच की मांग को आगे बढ़ाते हुए कहा है कि इसका पता लगाया जाना चाहिए कि क्या यह वुहान इंस्टिट्यूट ऑफ वायरोलॉजी से निकला था।
यह पूछे जाने पर कि क्या चीन वायरस के स्रोत के बारे में स्वतंत्र जांच के लिए सहमत होगा, तो चीनी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता गेंग शुआंग ने कहा कि पहले भी ऐसे वायरस की जांच से बहुत अधिक हासिल नहीं हुआ। उन्होंने कहा, 'वायरस की…

मास्क जीवन का हिस्सा बन जाएगा : प्रधानमंत्री मोदी

चित्र
नई दिल्ली। पीएम मोदी ने कहा कि आने वाले दिनों में मास्क और चेहरा ढंकने के लिए गमछे लोगों के जीवन का हिस्सा बन जाएंगे। उन्होंने यथासंभव प्रौद्योगिकी के ज्यादा से ज्यादा इस्तेमाल पर जोर दिया और सुधार के उपायों को अपनाने की भी जरूरत बताई। प्रधानमंत्री ने कहा कि देश ने अब तक दो लॉकडाउन देखे हैं, विभिन्न पहलुओं में दोनों ही अलग है और अब हमें आगे के बारे में सोचना है। उन्होंने कहा कि विशेषज्ञों के अनुसार आने वाले महीनों में कोरोना वायरस का असर दिखता रहेगा।

3 मई के बाद भी बंद रहेंगे स्कूल-पब्लिक ट्रांसपोर्ट और मॉल, वीकेंड में हो सकता है ऐलान

चित्र
नई दिल्ली। कोरोना वायरस के बढ़ते प्रभाव को देखते हुए प्रबल संभावना है कि लॉकडाउन 2.0 के खत्म होने के बाद भी देश में स्कूल, मॉल, पब्लिक ट्रांसपोर्ट और सिनेमाघर बंद रहेंगे। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को मुख्यमंत्रियों से वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए बातचीत में आगाह किया कि यह खतरा जल्द टलने वाला नहीं है। उन्होंने मुख्यमंत्रियों से तीन मई को लॉकडाउन के दो चरण समाप्त होने के बाद आगे की योजना बनाने को भी कहा।
लॉकडाउन के दूसरे चरण के अंतिम सप्ताह में प्रवेश करते हुए मोदी ने राज्यों के मुख्यमंत्रियों से कोरोना के खिलाफ देशव्यापी अभियान को जारी रखने के साथ ही देश की अर्थव्यवस्था को सुदृढ़ बनाने पर भी समान रूप से ध्यान देने को जरूरी बताया। मुख्यमंत्रियों के साथ इस महामारी पर चौथी वीडियो कॉन्फ्रेंस बैठक में मोदी ने इस बात पर भी जोर दिया कि राष्ट्रव्यापी बंद के सकारात्मक परिणाम मिले हैं तथा देश पिछले डेढ़ महीने में हजारों जानें बचा चुका है। आंध्रप्रदेश के मुख्यमंत्री वाई एस जगन मोहन रेड्डी ने कहा कि कोरोना वायरस का खात्मा नहीं किया जा सकता है और संक्रमण को रोकने के लिए पर्याप्त एहतियात बर…

आदेश नहीं मानने पर चला पुलिस का ठंडा

चित्र
ग्वालियर। दो दिन किराने की खेरीज दुकानें खुलने की ढील मिलने के बाद तीसरे दिन मनाही के बाद भी सोमवार सुबह दाल बाजार में दुकान खुल गईं। बाजारों में जब दुकानें खुल गईं तो पुलिस ने लाठी के जोर पर इन्हें बंद कराया। उधर सब्जी खरीदने के लिए लोग सोशल डिस्टेंसिंग भूल गए। गोरखी में सब्जी खरीदने सैकड़ों लोग पहुंच गए। इन्हें रोकने के लिए यहां पुलिस तक नहीं थी। बता दें कि गोरखी सब्जी मंडी में केवल 5 थोक व्यापारी को सब्जी बेचने की परमिशन है। यहां सबसे खराब हालात रहे। पुलिस ने साेमवार को 216 लोगों के चालान बनाए।
विनय नगर में दुकान खोलकर बैठी महिला कुसुम कुशवाह पर एफआईआर दर्ज की गई। मोतीझील पर भी एक दुकान खुली थी, इसके चालक कमल जाटव पर बहोड़ापुर पुलिस ने एफआईआर दर्ज की। शिंदे की छावनी पर ऑटो पार्ट की दुकान चलाने वाला विनय गंगवानी सुबह दुकान खोलकर बैठ गया। पुलिस पहुंची तो उसके यहां गाड़ियां ठीक हो रही थीं। पुलिस ने उस पर भी एफआईआर दर्ज की। वहीं इंदरगंज में इलेक्ट्रॉनिक सामान की दुकान खुली थीं, इनका चालान काटा गया। इसी तरह ऊंट पुल पर कुछ गैर जरूरी सामान की दुकानें खुल गईं। इन पर कार्रवाई की गई। जबकि माधोगं…

कश्मीरियों पर हमला करने को लेकर भिड़े दो आतंकी संगठन

चित्र
श्रीनगर। अकसर कायरतापूर्ण हमले करने वाले आतंकी संगठन इन दिनों आपस में ही भिड़ गए हैं। कश्मीर घाटी में सक्रिय लश्कर-ए-तैयबा और हिजबुल मुजाहिदीन इन दिनों टकराव के मूड में हैं। दरअसल, लश्कर-ए-तैयबा ने एक नया संगठन द रेजिस्टेंस फ्रंट (टीआरएफ) बनाया है। हाल ही में हिजबुल मुजाहिदीन के टॉप कमांडर अब्बास शेख ने हिजबुल का साथ छोड़कर टीआरएफ का दामन थाम लिया है। यही कारण है कि टीआएफ और लश्कर अब हिजबुल मुजाहिदीन के निशाने पर हैं।
खूफिया सूत्रों के मुताबिक, हिजबुल मुजाहिदीन छोड़ने के बाद अब्बास शेख पूरी तरह से अंडरग्राउंड हो गया है। टीआरएफ में शामिल होने के बाद वह हिजबुल और सुरक्षाबलों से छिपता फिर रहा है। सूत्रों के मुताबिक, अब्बास दावा करता है कि उसके साथ 12 ऐक्टिव सदस्य हैं और कई सारे ग्राउंड वर्कर्स भी हैं। भारत में कोरोना संक्रमित भेजने की फिराक में पाकिस्तानकोरोना वायरस के संक्रमण से लगभग तबाही की तरफ आगे बढ़ रहा पाकिस्तान अब अपने संक्रमित लोगों को कश्मीर में दाखिल करवाने की कोशिश में लगा है। भारतीय खुफिया एजेंसियों को इनपुट मिला है कि पीओके में आतंकवादियों के अलावा बड़ी संख्या में कोरोना वाय…

पीएम मोदी लॉकडाउन को लेकर आज फिर करेंगे मुख्यमंत्रियों से चर्चा

चित्र
नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के साथ जब देश के सारे मुख्यमंत्री सोमवार को सामने होंगे तब उनके सामने ढेर सारे सवाल होंगे। सूत्रों के अनुसार, इस बार अधिकतर मुख्यमंत्री मांगों की लंबी लिस्ट के साथ सामने आने वाले हैं। इससे पहले अब तक प्रधानमंत्री मोदी सभी मुख्यमंत्रियों के साथ तीन बार मीटिंग कर चुके हैं। लेकिन, इस बार मीटिंग से पहले कई ऐसे घटनाक्रम हुए हैं जिससे अब सभी की नजरें सोमवार पर टिक गई हैं। इस मीटिंग में पीएम मोदी 3 मई को समाप्त होने वाले लॉक डाउन 2.0 के बाद के एक्जिट रूट के बारे में बात करेंगे। पीएमओ सूत्रों के अनुसार अधिकतर राज्य 3 मई के बाद भी बंदिशें जारी रखना चाहते हैं लेकिन इनके बीच कई मोर्चे पर छूट भी चाहते हैं। वहीं, कांग्रेस शासित राज्य मीटिंग में यह प्रस्ताव रखेंगे कि अब आगे से लॉकडाउन की रणनीति को राज्यों के जिम्मे छोड़ दिया जाना चाहिए और वे अपनी जरूरतों के हिसाब से लागू करें।

पुलिस ने दिखाई सख्ती, 81 दुकानों सहित बिना मास्क व ग्लब्स के मिले लोगों के काटे चालान

चित्र
ग्वालियर। लॉकडाउन का ग्यारहवां दिन। रविवार को सुबह बाजारों में भीड़ उमड़ पड़ी। जमकर नियम टूटे। दुकान पर सामान लेने आने वालों से लेकर दुकानदार तक के पास न तो मास्क नजर आया न ग्लब्स। सोशल डिस्टेंसिंग का उल्लंघन होता रहा। रविवार को ऐसे 81 दुकानदारों के चालान काटे। इसके साथ ही बिना मास्क के बाजार में निकले लोगों के भी चालान बनाए। शाम 5 बजे तक 263 लोगों के चालान काटकर जुर्माना वसूला गया। दो दुकानदारों पर एफआईआर दर्ज की। यह दुकानदार शाम 6 बजे के बाद भी दुकान खोलकर बैठे थे।

बदली व्यवस्था : अब 14 दिन बाद होगा कोरोना पॉजिटिव मरीज का दूसरा सैंपल

चित्र
ग्वालियर। कोरोना पॉजिटिव मरीज की अब दूसरी जांच 14 दिन बाद ही की जाएगी। यदि यह रिपाेर्ट निगेटिव आती है तो तीसरा सैंपल 24 घंटे के अंदर लेना होगा। उसका चेस्ट एक्स-रे भी कराना होगा। इस दाैरान सब ठीक रहता है तो उसे डिस्चार्ज किया जाएगा। इस आशय के आदेश संचालनालय स्वास्थ्य सेवाएं ने सभी क्षेत्रीय संचालक स्वास्थ्य सेवाएं एवं सभी सीएमएचओ को जारी किए हैं। इस अादेश से काेराेना पाॅजिटिव मिलने पर मरीज काे ठीक हाेने में कम से 16 दिन लगेंगे। उधर, वायरोलॉजिकल लैब एवं डीआरडीई लैब से रविवार को जारी 155 लोगों की रिपोर्ट निगेटिव आई है। इसमें डबरा पिछोर के वजीर खान के संपर्क में आए 47 लोग शामिल हैं।

दूध, ब्रेड और गैस वितरण प्रतिबंध से मुक्त

चित्र
ग्वालियर। कलेक्टर द्वारा घोषित प्रितबंधो से केंद्रीय कार्यालय, बैंक, सीएससी सेंटर, बीमा, गैस वितरण, दूध-ब्रेड-अंडे (सुबह 6 से 9 बजे तक), फल मंडी (रात 12 से सुबह 4 बजे तक), सब्जी व फल की फुटकर बिक्री (सुबह 7 से 11 बजे तक) दवा दुकानें (सुबह 6 से 12 बजे तक), थोक दवा दुकानें (दोपहर 12 से शाम 4 बजे), पेट्रोल पंप, ग्रामीण क्षेत्र में कृषि उपकरण-पंचर की दुकानों को प्रतिबंधों से मुक्त रखा गया है।

अब नहीं खुलेंगी किराना दुकानें, पुरानी व्यवस्था बहाल होम डिलीवरी वाली दुकानें ही खुलेंगी

चित्र
ग्वालियर। खेरिज किराना दुकानें खुलने से जब बाजारों में सोशल डिस्टेंस की धज्जियां उड़ी तो इन्हें फिर अगले आदेश तक बंद कर दिया गया है। लोगों की सुविधा के लिए होम डिलीवरी करने वाली खेरिज दुकानें 28 व 30 अप्रैल को सुबह 8 से 12 बजे तक खुलेंगी पर यहां से ग्राहकों को सीधे सामान की बिक्री नहीं होगी। ऑनलाइन ग्रोसरी, दवा, किराना, सिवईयों की बिक्री शाम 6 बजे तक हो सकेगी। कलेक्टर कौशलेंद्र विक्रम सिंह ने थोक किराना दुकानें को 27 व 29 अप्रैल को सुबह 8 से दोपहर 12 बजे तक खोलने की छूट दी है। शर्त यह रहेगी कि ये भी ग्राहकों को फुटकर बिक्री नहीं करेंगे।

दूध, ब्रेड, सब्जी और किराना को छूट बाकी सब बन्द

चित्र
ग्वालियर। केंद्र सरकार द्वारा शुक्रवार को कुछ रियायतें देने की घोषणा से शहर में मची अफरातफरी के एकबार फिर जिला कलेक्टर को निर्देश देने पडे। हालांकि केंद्र सरकार की घोषणा से पहले ही कलेक्टर द्वारा 2 दिन के लिए किराना दुकानें सुबह 7 बजे से शाम 6 बजे तक खोलने की मंजूरी दी थी।
शानिवार को फिर नए सिरे नियमो की घोषणा करते हुए कलेक्टर ने साफ किया कि रवीवार को केवल दूध, ब्रेड, सब्जी और किराना की दुकानें खुलेंगी। सेलून, गिफ्ट सेंटर, स्टेशनरी सहित अन्य को कोई छूट नही दी गई है। वही केंद्र ने भी स्पष्ट किया है दुकाने खोलेने सहित सभी निर्णय लेने का अधिकार राज्य सरकार के पास है।

शॉपिंग मॉल की दुकानों को छोड़, सभी दुकानों को खोलने की अनुमति है

चित्र
गृह मंत्रालय ने दुकानों को खोलने की अनुमति देने के लिए लॉकडाउन उपायों पर जारी समेकित संशोधित दिशा-निर्देशों में संशोधनों पर कल एक आदेश जारी किया था।

इस आदेश का तात्पर्य यह है कि:

ग्रामीण क्षेत्रों में, सभी दुकानों को खोलने की अनुमति है। हालांकि, शॉपिंग मॉल में स्थित दुकानें इनमें शामिल नहीं हैं।

शहरी क्षेत्रों में, सभी एकल दुकानों, आस-पड़ोस की दुकानों और आवासीय परिसरों में स्थित दुकानों को खोलने की अनुमति है। हालांकि, बाजारों/बाजार परिसरों और शॉपिंग मॉल में स्थित दुकानों को खोलने की अनुमति नहीं है।

यह स्पष्ट किया जाता है कि ई-कॉमर्स कंपनियों को केवल आवश्यक वस्तुओं की ही बिक्री करने की अनुमति है।
यह भी स्पष्ट किया जाता है कि शराब की बिक्री के साथ-साथ उन अन्य वस्तुओं की भी बिक्री प्रतिबंधित है, जिनके बारे में कोविड-19 के प्रबंधन संबंधी राष्ट्रीय निर्देशों में निर्दिष्ट किया गया है। 

जैसा कि समेकित संशोधित दिशा-निर्देशों में निर्दिष्ट किया गया है, उपर्युक्‍त दुकानों को उन सभी क्षेत्रों, चाहे वे ग्रामीण हों या शहरी, में खोलने की अनुमति नहीं है,  जिन्हें संबंधित राज्यों/केंद्र शासित प्रदे…

विराट कोहली और डि विलियर्स ऐतिहासिक बल्ले को नीलाम करेंगे

चित्र
नई दिल्ली। भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली और दक्षिण अफ्रीका के पूर्व बल्लेबाज एबी डि विलियर्स ने 2016 में इंडियन प्रीमियर लीग (मैच के दौरान रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के लिए जिस बल्ले से शतक बनाए थे, वे उसे नीलाम करेंगे। इस नीलामी से वे कोविड-19 महामारी के खिलाफ लड़ाई के लिए कोष जुटाएंगे। यह दोनों बल्लेबाज इसके अलावा क्रिकेट के अन्य सामनों की भी नीलामी करेंगे। इसमें गुजरात लायंस के खिलाफ खेले गए उस मैच के इस्तेमाल किए गए ग्लव्स और टी-शर्ट भी शामिल है। कोहली और डि विलियर्स की शतकीय पारी से रॉयल चैलेंजर्स ने इस मैच में तीन विकेट पर 248 रन का विशाल स्कोर खड़ा किया था। टीम ने इस मैच को 144 रन से जीता था। डि विलियर्स ने इंस्टाग्राम चैट में कोहली से कहा, 'हमने एक साथ कुछ अच्छी पारियां खेली है। गुजरात लायन्स के खिलाफ 2016 के आईपीएल का वह खास मैच था। मैंने 129 रन बनाए थे और आपने 100 के करीब स्कोर किया था। ऐसा हमेशा नहीं होता है जब दो बल्लेबाज शतक (टी20) लगाते हो। यह मेरे लिए यह यादगार है।'
उन्होंने कहा, 'मैं सोच रहा था कि हम कैसे मदद कर सकते हैं, इसीलिए मैंने आपको उस मैच में …

कोरोना के मामलों में शुक्रवार को हुई रेकॉर्ड वृद्धि, एक ही दिन में 1,752 नए मरीज

चित्र
नई दिल्ली। देश में कोरोना वायरस के मामलों में शुक्रवार को 1,752 की वृद्धि हुई जो भारत में अब तक एक दिन में सामने आए सर्वाधिक मामले हैं। इसके साथ ही संक्रमण के कुल मामलों की संख्या लगभग 23,452 हो गई। वहीं, सरकार ने कहा कि महामारी का प्रकोप नियंत्रण में है और यदि राष्ट्रव्यापी लॉकडाउन लागू न किया जाता तो संक्रमण के मामलों की संख्या अब तक एक लाख तक पहुंच चुकी होती। सरकारी अधिकारियों ने महामारी के 'नियंत्रण में होने' का श्रेय लॉकडाउन और मजबूत निगरानी नेटवर्क तथा विभिन्न नियंत्रण कदमों को दिया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 24 मार्च को राष्ट्र के नाम संबोधन में लॉकडाउन की घोषणा की थी।

कोराेना के बहाने मुस्लिमों के उत्पीड़न को लेकर 101 पूर्व नौकरशाहों ने लिखी चिट्‌ठी

चित्र
नई दिल्ली। 101 पूर्व नौकरशाहों ने राज्यों के मुख्यमंत्रियों को चिट्ठी लिखकर रोष प्रकट किया है कि देश के कुछ हिस्सों में मुसलमानों का 'उत्पीड़न' हो रहा है। उन्होंने पत्र में तबलीगी जमात के धार्मिक आयोजन को तो 'गुमराह और निंदनीय' बताया, लेकिन मीडिया के कुछ वर्ग पर मुसलमानों के खिलाफ विद्वेष भड़काने का आरोप लगाकर उसके काम को 'बिल्कुल गैर-जिम्मेदाराना और कलंकित' करार दे दिया। पत्र में कहा गया है, 'महामारी के कारण पैदा हुए डर और असुरक्षा को विभिन्न जगहों पर मुसलमानों को 'अलग-थलग करने' के प्रति मोड़ दिया गया ताकि शेष आबादी की सुरक्षा के नाम पर उन्हें सार्वजनिक स्थलों से दूर रख जा सके।' ये 101 पूर्व नौकरशाह पूरे देश और केंद्रीय सेवाओं से जुड़े हैं और देशभर से हैं। उनका दावा है कि 'वो किसी खास राजनीतिक विचारधारा से संबद्ध नहीं हैं, लेकिन भारतीय संविधान को प्रभावित करने वाले मुद्दों पर उनका ध्यान जरूर रहता है।' चिट्ठी लिखने वालों में पूर्व कैबिनेट सचिव केएम चंद्रशेखर, पूर्व आईपीएस ऑफिसर ए एस दुलत और जुलियो रिबेरो, पूर्व मुख्य सूचना आयुक्त वजाहत ह…

प्रशासन ने किया फैक्टरी संचालकों का डर दूर, कहा- किसी को कोराना हुआ तो न फैक्टरी सील होगी और न एफआईआर

चित्र
ग्वालियर। भारत सरकार के गृह मंत्रालय ने बीते 23 अप्रैल की शाम मप्र समेत सभी राज्यों के मुख्य सचिव को पत्र लिखकर उद्यमियों में फैल रहे उस डर को दूर करने के निर्देश दिए, जिसमें फैक्टरी के संचालन के दौरान किसी कर्मचारी या मजदूर को कोरोना पॉजिटिव निकलने पर फैक्टरी मालिक-मैनेजर पर एफआईआर करने या फैक्टरी को सील कर देने की बातें फैलाई गईं।
ग्वालियर में भी एमपी आईडीसी और जिला उद्योग केंद्र के अफसर दिनभर समस्त औद्योगिक क्षेत्रों के उद्यमियों से चर्चा कर समझाते रहे कि वे फैक्टरी चालू करें। अगर किसी को कोरोना निकलेगा तो न तो उनके खिलाफ कोई एफआईआर दर्ज होगी न ही फैक्टरी को सील किया जाएगा। जबकि एक दिन पहले यही अफसर उद्यमियों को सोशल डिस्टेंसिंग का पालन न होने और कोरोना पॉजिटिव पाए जाने पर समस्त जिम्मेदारी फैक्टरी मालिक की बता रहे थे। ग्वालियर उद्योग केंद्र के महाप्रबंधक अरविंद बोहरे ने बताया कि ऐसी कोई शर्त नहीं लगा रहे हैं कि कोरोना निकलने पर फैक्टरी मालिक पर एफआईआर करेंगे या फैक्टरी सील कर देंगे।

रमजान पर प्रशासन का तोहफा, आज से दो दिन तक सभी दुकानें खुलेंगी

चित्र
ग्वालियर। रमजान का पाक महीना शनिवार से प्रारंभ हो रहा है। इस अवसर पर प्रशासन ने फुटकर दुकानों को तोहफा देते हुए सभी दुकानें खोलने की अनुमति दे दी है। इसके अलावा दूध, ब्रेड, अंडों की बिक्री भी होती रहेगी। थोक दवा, किराना दुकानें फिलहाल नहीं खुलेंगी। उल्लेखनीय है कि वर्तमान में किराना व ग्रोसरी आयटम की सप्लाई सिर्फ ऑनलाइन ही हो रही थी। फुटकर किराना दुकानें पिछले दो सप्ताह से बंद होने से लोग परेशान थे।
कलेक्टर कौशलेंद्र विक्रम सिंह ने 23 अप्रैल को जारी धारा-144 के आदेश को शुक्रवार रात कुछ छूट और पाबंदी कर संशोधित किया है। अब शनिवार 25 अप्रैल व रविवार 26 अप्रैल को फुटकर किराना दुकानें सुबह 7 से शाम 6 बजे तक खुल सकेंगी। यह छूट ग्वालियर सिटी (बहोड़ापुर आदि) और डबरा अनुभाग के कंटेनमेंट जोन के लोगों को नहीं मिलेगी। अगले आदेश तक थोक दवा व किराना दुकानें बंद रहेंगी। बैंक में लगे एटीएम खुले रहेंगे। हनुमान चौराहा व जीवाजीगंज की थोक दुकानों से सिमईयों की बिक्री फुटकर दुकानदारों को शनिवार-रविवार सुबह 7 से शाम 6 बजे तक हो सकेगी। इन दुकानों से सीधे फुटकर ग्राहकों को सिमईयों की बिक्री नहीं की जाएगी। फु…

मध्यप्रदेश में निरंतर पुख्ता हाे रही व्यवस्थाएँ : मो सुलेमान

चित्र
भोपाल। अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य मो. सुलेमान ने बताया के मध्यप्रदेश में वर्तमान में 12 लैब प्रतिदिन लगभग 2000 सैंपल ले रही हैं। पूर्व में सिर्फ 2 लैब ही कार्यरत थीं। शीघ्र ही राज्य में 2500 सैंपल लेने की व्यवस्था कर ली जाएगी और मई में यह क्षमता 5000 सैंपल प्रतिदिन होगी। भारत सरकार और आईसीएमआर द्वारा पूर्ण सहयोग प्राप्त हो रहा है। इंदौर और भोपाल में डीआरडीओ से अनुमोदित पीपीई किट तैयार हो रही हैं। प्रतिदिन 10,000 किट तैयार हो रही हैं। इंदौर में भी स्थिति में सुधार परिलक्षित हो रहा है। इंदौर नगर में 11 कटेंनमेंट एरिया बनाने से काफी सहयोग मिला है। हाई रिस्क व्यक्तियों के सैंपल लेने और संदिग्ध होने पर क्वॉरेंटाइन की कार्यवाही भी निरंतर की जा रही है।

प्रदेश में कोराना नियंत्रण के बाद भी रहना चाहिए जागरूकता : मुख्यमंत्री श्री चौहान

चित्र
प्रबुद्धजन के सुझावों पर होगा अमल : अन्य रोगों के उपचार की उपेक्षा न हो
भोपाल। मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि मध्यप्रदेश में कोरोना पर नियंत्रण के लिए राज्य सरकार सभी जरूरी उपाय कर रही है। जनता को इस वायरस के संक्रमण से मुक्त कराने के लिए बहुआयामी कदम उठाए गए हैं। चिकित्सा क्षेत्र के साथ ही प्रमुख समाजसेवियों और सामाजिक नेताओं का सहयोग भी प्राप्त किया जा रहा है। प्राप्त सुझावों के अनुसार जनता के हित में अन्य आवश्यक निर्णय भी लिये जाएंगे। श्री चौहान आज मध्यप्रदेश सरकार द्वारा कोरोना वायरस पर नियंत्रण के संबंध में गठित राज्य सलाहकार समिति के सदस्यों से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से चर्चा कर रहे थे। इस अवसर पर गृह तथा लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा उपस्थित थे। प्रसिद्ध बाल अधिकार कार्यकर्ता, नोबेल पुरस्कार से सम्मानित और कोरोना समस्या के संबंध में राज्य सरकार की सलाहकार समिति के सदस्य श्री कैलाश सत्यार्थी ने सुझाव दिया कि मध्यप्रदेश में स्वैच्छिक संगठनों के माध्यम से जन-जागरूकता अभियान चलाना होगा। इससे कोरोना वायरस की समस्या के सामाजिक दुष्…

फिर नया आदेश- किराने की दुकानें बंद रहेंगी ऑनलाइन बिक्री पर भी रोक

चित्र
ग्वालियर। किराना दुकानें खुलने की उम्मीद अब खत्म हो गई है। पूर्व के आदेश के मुताबिक शहर में 25 व 26 अप्रैल को खेरिज दुकानों को छूट दी गई थी। गुरुवार शाम कलेक्टर कौशलेंद्र विक्रम सिंह ने जो आदेश दिया है उसमें अगले आदेश तक किराना की थोक, खेरिज व दुकानों से ऑनलाइन बिक्री पर रोक लगा दी गई है। सिर्फ सर्व एप से ही ऑनलाइन सप्लाई हो सकेगी। इसके अलावा आटा-मसाला पिसाई केंद्रों को दी गई छूट भी वापस ले ली गई है। इलेक्ट्रिक व इलेक्ट्रोनिक उपकरणों की होम डिलीवरी तथा शराब-गुटखा की बिक्री भी प्रतिबंधित रहेगी।
उल्लेखनीय है कि प्रशासन रोक के बाद भी शराब व गुटखा की अवैध बिक्री नहीं रोक पा रहा है। राज्य सरकार व निगम-मंडल के दफ्तर (जिन्हें छूट नहीं) बंद रहेंगे सिर्फ केंद्रीय कार्यालय खुले रहेंगे। दूध-ब्रेड,अंडे, गैस एजेंसी व बैंक आदि पहले की तरह ही खुलते रहेंगे। फल-सब्जी का कारोबार, दवा और पेट्रोल पंप भी पहले की तरह ही खुले रहेंगे।

जेबी मंघाराम फैक्टरी सहित शहर के कई क्षेत्रों में आज 4 व 5 घंटे गुल रहेगी बिजली

चित्र
ग्वालियर। शहर के कई क्षेत्रों में शुक्रवार को 4 एवं 5 घंटे बिजली कटौती की जाएगी। सुबह 6 से 11 बजे के बीच जेबी मंघाराम फैक्टरी, जीआईसीटी कॉलेज, इंडस्ट्रीज एरिया, जड़ेरुआ, सैनिक कॉलोनी, पिंटू पार्क, गायत्री विहार, आदित्यपुरम, शुभांजलिपुरम, बीएसएफ कॉलोनी, अमलतास कॉलोनी, भगत सिंह नगर, शताब्दीपुरम क्षेत्र में बिजली गुल रहेगी। इसी तरह सुबह 7 से 11 बजे तक बरा, किशनबाग, लक्ष्मीपुरम, जाटवपुरा, गदाईपुरा, संजय नगर, कृष्ण नगर में बिजली कटौती की जाएगी।

श्योपुर के दो मरीजों ने जीती कोरोना से जंग

चित्र
ग्वालियर। श्योपुर निवासी राशिद की बेटी शबनम और पड़ोसी इलियास की तीन में से लगातार दो रिपोर्ट निगेटिव आई हैं। इस कारण गुरुवार को सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल के डॉक्टरों ने दोनों को डिस्चार्ज कर दिया। जबकि राशिद का एक सैंपल और जांच के लिए भेजा जाएगा अगर वह भी निगेटिव आता है तो उसे भी डिस्चार्ज कर दिया जाएगा। राशिद को श्योपुर जिला अस्पताल में कोरोना संक्रमण की संभावना के चलते भर्ती कराकर सैंपल जांच के लिए भेजा था, जिसकी रिपोर्ट 6 अप्रैल को डीआरडीई से आई थी। जांच में राशिद खान को कोरोना संक्रमण पाया गया था। इसके बाद उन्हें ग्वालियर रैफर कर दिया गया था। यहां वे सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल में भर्ती हैं। राशिद खान की दूसरी रिपोर्ट 10 अप्रैल को पॉजिटिव आई थी। इसके बाद 16 अप्रैल को राशिद खान का सैंपल पुन: जांच के लिए जीआरएमसी के वायरोलॉजिकल लैब भेजा गया था जो फिर से पॉजिटिव आई थी। उधर राशिद की बेटी शबनम और पड़ोस में रहने वाले इलियास की रिपोर्ट निगेटिव आई थी।

राहत भरी खबर : 121 लाेगाें की रिपाेर्ट निगेटिव श्योपुर के दो मरीज हुए ठीक

चित्र
ग्वालियर। गुरुवार काे 121 संदिग्ध मरीजों के सैंपल की रिपाेर्ट के नतीजे निगेटिव अाने से प्रशासन ने राहत की सांस ली। इन सभी सैंपल की जांच जीआरएमसी की वायरोलॉजिकल लैब में की गई। इनमें डबरा-पिछोर के 52 लोगों के सैंपल भी भामिल हैं, इनकी रिपोर्ट भी निगेटिव आई है। शाम तक जिला अस्पताल मुरार और जेएएच की कोल्ड ओपीडी में 106 संदिग्ध मरीजों के सैंपल लिए गए। इनमें कोरोना पॉजिटिव पाए गए मुबारक को लाने वाले ट्रक के ड्राइवर सोनू शर्मा, क्लीनर नरेंद्र सिंह निवासीगण डबरा तथा ड्राइवर का दोस्त कश्मीर सिंह निवासी कश्मीर का सैंपल भी शामिल है।

रजनीकांत ने उठाया 1000 परिवारों का जिम्मा, ऐक्टर विजय देंगे 1.3 करोड़

चित्र
चैन्नई। कोरोना वायरस के संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए केंद्र सरकार ने देश भर में लॉकडाउन 3 मई तक के लिए कर किया है. बाकी व्यवसायों की तरह मनोरंजन जगत में भी सारा कामकाज ठप पड़ा है. सिनेमा जगत में दिहाड़ी पर काम करने वाले बेहिसाब लोग इससे बुरी तरह प्रभावित हुए हैं. तमाम सितारों ने ऐसे लोगों की मदद के लिए हाथ बढ़ाया है और हाल ही में सुपरस्टार रजनीकांत ने भी 50 लाख रुपये FWFSI को डोनेट किए थे. कोरोना महामारी से देश में जंग जारी है। देश के लोगों की मदद के लिए हर इंडस्ट्री से फिल्म स्टार्स आगे आए हैं। फिर चाहें वह बॉलिवुड हो, साउथ हो या भोजपुरी सिनेमाा। अब एक नए रिपोर्ट के मुताबिक साउथ के मेगास्टार रजनकांत ने 1000 कलाकारों के खाने-पीने की व्यवस्था खुद करने की घोषणा की है। इससे पहले साउथ के सुपरस्टार विजय ने 1.3 करोड़ रुपये पीएम केयर्स फंड सहित अन्य राज्य सरकारों को देने का फैसला किया है।
बता दें कि रजनीकांत पहले भी कोरोना प्रभावितों की मदद के लिए आगे आ चुके हैं। हर स्तर पर वह अपना बड़ा दिल दिखा रहे हैं। अब साउथ इंडस्ट्री से जुड़े नदीगर संगम के करीब 1000 कलाकारों को इन दिनों में कोई दिक्क…

पीएम मोदी कोरोना संकट के बीच बुजुर्गों से बात कर पूछ रहे उनके हालचाल

चित्र
नई दिल्ली। कोरोना के खिलाफ इस जंग में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सभी देशवासियों से बुजुर्गों का खास ख्याल रखने को कहा है। पीएम मोदी खुद भी 'परिवार' के बुजुर्गों को फोन कर उनका हालचाल जान रहे हैं। साथ ही उन्हें स्वास्थ्य का ध्यान रखने को कह रहे हैं। गुरुवार को पीएम मोदी ने दिल्ली के पूर्व विधायक ओ. पी. बब्बर को फोन कर उनका हाल चाल जाना। इससे पहले वह यूपी के और गुजरात के पूर्व विधायकों को भी फोन कर चुके हैं। पीएम मोदी ने गुरुवार को दिल्ली के बीजेपी के पूर्व विधायक ओ. पी. बब्बर को फोन किया। 85 साल के बब्बर दिल्ली में तीन बार विधायक रह चुके हैं। उन्होंने बताया कि पीएम मोदी जी का फोन आया और उन्होंने मेरा हालचाल पूछा। पीएम ने परिवार के बारे में पूछा। पीएम ने कहा कि मैं उन लोगों को फोन कर रहा हूं जिनकी उंगली पकड़कर मैंने सीखा है। ये शब्द अद्भुत थे, वो मुझे छू गए। बब्बर ने कहा कि पीएम जैसे विनम्र शख्स से बात कर मुझे खुशी मिली। मैंने उन्हें बताया कि हम मोदी किट में राशन बांट रहे हैं और इस लॉकडाउन पीरियड में हम जरूरतमंद लोगों की मदद कर रहे हैं। बब्बर ने कहा कि मैंने पीएम से कहा कि मैं…

केजरीवाल सरकार का आदेश- मजदूरों और छात्रों से नहीं लें किराया

चित्र
नई दिल्ली। कोरोना वायरस लॉकडाउन के दौरान दिल्ली सरकार ने मकान मालिकों से एक महीने के लिए मजदूरों और छात्रों से किराए की मांग नहीं करने के अपने आदेश का सख्ती से पालन करने के लिए कहा है। बता दें कि केजरीवाल सरकार ने 22 अप्रैल को अपने आदेश में कहा कि जिला मजिस्ट्रेट प्रवासी अपने क्षेत्रों में विशेष रूप से जहां प्रवासी श्रमिक और छात्र ज्यादा रहते हों उन इलाकों में जागरुकता अभियान चलाएं। दिल्‍ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने कहा कि राज्य में पॉजिटिव मामलों की कुल संख्या 2248 है इसमें कल 92 केस सामने आए और कल 113 मरीज ठीक हो गए। अभी तक दिल्ली में कोरोना से 724 लोग ठीक हो चुके है जो कि 32% होता है। 2248 में से 48 लोगों की मृत्यु हो चुकी। वहीं, 24 लोग आईसीयू में और 6 लोग वेंटिलेटर पर हैं।
कोरोना के खतरे को देखते हुए दिल्ली में 90 इलाकों को सील किया जा चुका है और हर रोज यह संख्या बढ़ रही है। ऐसे में टेस्टिंग के साथ कंटेनमेंट जोन में व्यवस्था बनाना सरकार के लिए बड़ी चुनौती बन गया है। एरिया सील किए जाने के बाद किसी को आने-जाने की इजाजत नहीं होती। अधिकारियों का कहना है कि जैसे-जैसे कंटेनमें…

आईसीएमआर के निर्देश के बाद सभी गर्भवती महिलाओं की होगी सैंपलिंग

चित्र
ग्वालियर। कोरोना संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए स्थानीय प्रशासन ने जिन क्षेत्रों को हाॅटस्पाट और कंटेनमेंट क्षेत्र की श्रेणी में रखा है, वहां रह रहीं गर्भवती महिलाओं की डिलीवरी से पांच दिन पहले अस्पताल पहुंचकर सैंपलिंग करानी होगी। इस संबंध में इंडियन काउंसिल आॅफ मेडिकल रिसर्च ने दाे दिन पहले गाइडलाइन जारी की है। इसमें स्पष्ट किया है कि बीमारी के लक्षण नहीं दिखने की स्थिति में भी इन क्षेत्रों से आने वाली सभी गर्भवती महिलाओं के सैंपल लिए जाएंगे। सरकारी अस्पतालों में सैंपल लेने की व्यवस्था की जिम्मेदारी स्वास्थ्य विभाग की रहेगी, ताकि गर्भवती महिला को सैंपलिंग के लिए किसी अन्य जगह नहीं जाना पड़े। सीएमएचओ डाॅ. एसके वर्मा ने बताया कि रेपिड एंटी बाॅडी टेस्ट किट अब तक ग्वालियर में नहीं आई है। ऐसे में थ्रोट स्वाब के सैंपल लिए जाएंगे।

प्रशासन ने कहा-बाहर से आने वाले सामान्य हैं तो भी 14 दिन तक होम क्वारेंटाइन रहना होगा

चित्र
ग्वालियर। जिले के चेक पोस्ट पर इन दिनों बाहर से आने वालों की संख्या निरंतर बढ़ती जा रही है। पिछले दो दिन में 200 लोगों ने जिले के सातों चेक पोस्ट पर अामद दी है। इन्हें िजला प्रशासन द्वारा बनाए गए क्वारेंटाइन सेंटरों पर पहुंचाया गया है। बढ़ती संख्या को ध्यान में रखकर नई व्यवस्था की जा रही है। अब जिनमें कोई लक्षण नहीं हैं, उन्हें चेकअप कर घर पर ही 14 दिन के लिए क्वारेंटाइन किया जाएगा। इंसीडेंट कमांडर उन्हें होम क्वारेंटाइन कराने की व्यवस्था करेंगे। जिला प्रशासन के आदेश के बाद ग्वालियर स्मार्ट सिटी कार्पोरेशन अपने कोविड-19 ट्रैकिंग एंड इनफोरमेशन मैनेजमेंट सिस्टम को अपग्रेड कर रहा है। यह सिस्टम दो-तीन दिन में काम करने लगेगा। इसके शुरू होते ही क्वारेंटाइन सेंटरों में सिर्फ उन्हें ही रखा जाएगा, जिनका सैंपल लिया गया है।

शिवराज कैबिनेट में विभागों का बंटवारा, सरकार में नंबर 2 होंगे नरोत्तम मिश्रा

चित्र
नरोत्तम मिश्रा को ग्रह, तुलसी सिलावट को जल संसाधन, गोविंद राजपूत को सहकारिता, कमल पटेल को कृषि और मीना सिंह को मिला आदिम जाति कल्याण विभाग
भोपाल। मध्य प्रदेश में शिवराज सिंह चौहान की कैबिनेट में विभागों का बंटवारा हो गया है। नरोत्तम मिश्रा को गृह के साथ लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग की जिम्मेदारी दी गई है। सरकार में वे नंबर दो की भूमिका में भी होंगे। तुलसी सिलावट को जल संसाधन विभाग मिला है। सिलावट कमलनाथ सरकार में स्वास्थ्य मंत्री थे। कमल पटेल को किसान कल्याण एवं कृषि विकास विभाग दिया गया है। पीर्व सीएम उमा भारती के करीबी पटेल ने शिवराज सिंह के पिछले कार्यकाल में खनन घोटाले को लेकर कई खुलासे किए थे। खाद्य, नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता संरक्षण तथा सहकारिता विभाग गोविंद सिंह राजपूत देखेंगे। मीना सिंह मांडवे के पास आदिम जाति कल्याण विभाग होगा। बता दें कि करीब एक महीने तक बिना कैबिनेट की सरकार के बाद मंगलवार को शिवराज मंत्रिमंडल में पांच लोगों को शामिल किया गया था। मंगलवार को इन मंत्रियों को संभागों की जिम्मेदारी दी गई थी। इसके बाद बुधवार सुबह राज्यपाल के अनुमोदन से इनके बीच विभाग…

देश में फैली कोरोना महामारी के कारण सचिन ने जन्मदिन नहीं मनाने का लिया निर्णय

चित्र
नई दिल्ली। क्रिकेट के भगवान कहे जाने वाले मास्टर बल्लेबाज सचिन तेंडुलकर ने इस साल अपना जन्मदिन नहीं मनाने का फैसला लिया है। सचिन 24 अप्रैल,बुधवार को 47 साल के हो जाएंगे। सचिन के करीबी सूत्रों ने बताया कि दुनिया भर में फैले कोविड19 और देश में चल रहे लॉकडाउन के मद्देनजर सचिन ने ऐसा निर्णया लिया है। सचिन का जन्मदिन आमतौर पर काफी ग्रैंड तरीके से मनाया जाता है। इसमें कई नामी गिरामी हस्तियां शामिल होती हैं। लेकिन इस बार हालात अलग हैं और इसी वजह से सचिन ने सेलिब्रेट नहीं करने का फैसला किया है।
खेल से रिटायरमेंट के पहले भी वह जहां भी होते थे उनका जन्मदिन काफी भव्य अंदाज में मनता था। इस बार लॉकडाउन के चलते सचिन इंडोर हैं लेकिन उन्होंने घर में भी जन्मदिन नहीं मनाने का फैसला लिया है। वह चाहते हैं कि हर तरह से सोशल डिस्टेंसिंग का ख्याल रखा जाए और ऐसे में जब दुनिया एक गंभीर संकट के दौर से गुजर रही है, जन्मदिन मनाने का कोई मतलब नहीं बनता।

मिथुन चक्रवती के पिता का निधन, लॉकडाउन के चलते बेंगलुरु में फंसे हैं अभिनेता

चित्र
मुंबई। बॉलिवुड के लिए एक बुरी खबर है। ऐक्टर मिथुन चक्रवर्ती के पिता बसंत कुमार चक्रवर्ती का निधन हो गया है। आ रही मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक बसंत चक्रवर्ती काफी दिनों से बीमारी से जूझ रहे थे। मंगलवार को बसंत चक्रवर्ती ने मुंबई में आखिरी सांस ली। उधर, दिक्कत यह है कि अभिनेता मिथुन चक्रवर्ती लॉकडाउन के कारण बेंगलुरु में फंसे हुए हैं। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक किसी शूट के कारण मिथुन बेंगलुरु गए थे। अब वह वहीं फंस गए हैं। पिता के बारे में जानकारी मिलने के बाद वह मुंबई निकलने की कोशिश में हैं। इधर, बताया जा रहा है कि गुर्दा फेल होने से मिथुन के पिता की मृत्यु हुई है। मीडिया में आ रही खबरों के मुताबिक मिथुन के बेटे मिमोह चक्रवर्ती इस समय मुंबई में ही हैं। उधर, मशहूर अभिनेत्री रितपर्णा सेन गुप्ता के ट्वीट के बाद से ही यह अटकलें तेज हुई हैं। इस ट्वीट में उन्होंने मिथुन के पिता को श्रद्धांजलि देते हुए उनके परिवार को हिम्मत देने के लिए इश्वर से प्रार्थना भी की है। हालांकि अभी आधिकारिक रूप से इस बारे में बयान आना बाकी है।

सेना ने मुठभेड़ मार गिराए 4 आतंकी

चित्र
नई दिल्ली। जम्मू कश्मीर के शोपियां जिले में आज सुरक्षाबलों के साथ मुठभेड़ में चार आतंकवादी मारे गए। पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि सुरक्षाबलों ने शोपियां के मेल्होरा इलाके में आतंकवादियों की मौजूदगी की खुफिया सूचना मिलने के बाद मंगलवार रात को वहां घेराबंदी की और तलाश अभियान चलाया। उन्होंने बताया कि वहां छिपे आतंकवादियों ने सुरक्षाबलों पर गोलियां चलानी शुरू कर दी। सुरक्षाबलों ने भी जवाबी कार्रवाई की जिससे मुठभेड़ शुरू हो गई। इस मुठभेड़ में चार आतंकवादी मारे गए। पाकिस्तानी सेना ने मंगलवार को जम्मू-कश्मीर के पुंछ जिले के दो सेक्टरों में अग्रिम चौकियों और नियंत्रण रेखा से लगे हुए गांवों में मंगलवार को भीषण गोलाबारी की। पाकिस्तान ने नियंत्रण रेखा से लगे किरनी और कस्बा सेक्टर में बिना उकसावे के संघर्षविराम का उल्लंघन करते हुए छोटे हथियारों से गोलीबारी की और मोर्टार से गोला दागा। वहीं, सुबह में पाकिस्तान ने नियंत्रण रेखा से लगे किरनी सेक्टर में बिना उकसावे के संघर्षविराम का उल्लंघन करते हुए छोटे हथियारों से गोलीबारी की और मोर्टार से गोले दागे थे। उत्तरी कश्मीर के सोपोर कस्बे में शनिवार को …

नहीं मान रहा पाकिस्तन, कश्मीर में कोरोना फैलाने की बड़ी साजिश

चित्र
नई दिल्ली। अपनी नापाक हरकतों के लिए दुनियाभर में बदनाम पाकिस्तान अभी भी नहीं मान रहा है। कोरोना वायरस के संक्रमण से लगभग तबाही की तरफ आगे बढ़ रहा पाकिस्तान अब अपने संक्रमित लोगों को कश्मीर में दाखिल करवाने की कोशिश में लगा है। भारतीय खुफिया एजेंसियों को इनपुट मिला है कि पीओके में आतंकवादियों के अलावा बड़ी संख्या में कोरोना वायरस के संक्रमित भी कश्मीर में घुसने की फिराक में लगे हुए हैं। इनका मकसद घाटी में संक्रमण को फैलाकर दहशत पैदा करना है। जम्मू और कश्मीर के डीजीपी दिलबाग सिंह ने भी इसकी पुष्टि करते हुए कहा है कि जब पूरी दुनिया कोरोना वायरस महामारी से लड़ रही है तब पाकिस्तान समर्थित आतंकवादी इस केंद्रशासित प्रदेश में शांति भंग करने के प्रयास कर रहे हैं। पुलिस महानिदेशक ने कहा कि हाल की एक रिपोर्ट बताती है कि पाकिस्तान में आतंकवादी प्रशिक्षण केंद्रों और उसके कब्जे वाले कश्मीर में कई आतंकवादी कोरोना वायरस से संक्रमित हैं। उन्होंने कहा कि पाकिस्तानी एजेंसियां आतंकवादियों को अंतरराष्ट्रीय सीमा और नियंत्रण रेखा पार कराने में मदद कर रही हैं। दिलबाग सिंह और जम्मू कश्मीर के उपराज्यपाल जी सी…

केंद्र सरकार ने बनाया नियम, अब डॉक्टों पर हमला किया तो 5 साल जेल और 7 लाख रुपए का जुर्माना

चित्र
नई दिल्ली। कोरोना वायरस महामारी के दौरान देश में डॉक्टरों और नर्सों पर हमले को देखते हुए सरकार उनकी सुरक्षा के लिए एक अध्यादेश लाई है। नरेंद्र मोदी कैबिनेट की बैठक में आज 123 साल पुराने कानून में बदलाव करने का फैसला किया गया और हेल्थकर्मियों के लिए अध्यादेश लाने का फैसला किया गया। इस अध्यादेश के तहत डॉक्टरों और अन्य हेल्थकर्मियों पर हमला करने वालों को अधिकतम 7 साल तक की सजा हो सकती है। इस अध्यादेश के तहत डॉक्टरों और अन्य हेल्थकर्मियों पर हमला करने वालों को अधिकतम 7 साल तक की सजा हो सकती है। केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने इसकी जानकारी दी। जावड़ेकर ने बताया कि आज सुबह की गृह मंत्री अमित शाह और केंद्रीय स्वास्थ मंत्री हर्षवर्धन ने मेडिकलकर्मियों से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए बात की थी। डॉक्टरों ने मांग की थी कोरोना काल में उनकी सुरक्षा के लिए सरकार कानून लाए। गृह मंत्री ने उन्हें भरोसा दिया था कि डॉक्टरों और नर्सों की सुरक्षा के साथ कोई समझौता नहीं होगा। उन्होंने कहा कि NSA, IPC, CRPC होने के बावजूद यह अध्यादेश लाने का फैसला किया गया।
नई दिल्ली। केंद्रीय मंत्री ने कहा कि 123 साल पुर…

Fw: 28 दिन बाद शिवराज ने बनाई अपनी टीम, 5 मंत्रियों ने ली सपथ

चित्र
From: "Deepak Shrivastava"<deep.008@rediffmail.com>
Sent: Wed, 22 Apr 2020 03:10:48 GMT+0530
To: "sarkarinews24maxima"<sarkarinews24.maxima@blogger.com>
Subject: 28 दिन बाद शिवराज ने बनाई अपनी टीम, 5 मंत्रियों नई ली सपथ


भोपाल। मध्य प्रदेश में मंगलवार को शिवराज सरकार का मंत्रिमंडल विस्तार हुआ. कमलनाथ सरकार जाने के बाद शिवराज सिंह चौहान ने मुख्यमंत्री पद की शपथ ली थी, लेकिन अब करीब एक महीने के बाद 5 मंत्रियों को शपथ दिलाई गई है. इनमें कांग्रेस से भाजपा में आए ज्योतिरादित्य सिंधिया के समर्थक मंत्री भी शामिल हैं. शपथ ग्रहण के दौरान राजभवन में मंत्री समेत कई नेता मास्क पहने हुए भी नज़र आए और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन किया गया. शपथ लेने वालों में नरोत्तम मिश्रा, कमल पटेल, मीना सिंह, तुलसीराम सिलावट, गोविंद सिंह राजपूत शामिल हैं।
गौरतलब है कि एक तरफ देश में लॉकडाउन लगा हुआ है और इस दौरान किसी तरह के राजनीतिक कार्यक्रम की इजाजत नहीं दी जा रही है. इस सबके बीच आज शिवराज सरकार का कैबिनेट विस्तार हुआ है. कोरोना संकट के बीच राज्य में गृह या स्वास्थ्य मंत्री ना होने के कार…

मप्र में गठित मंत्रिमंडल में शिवराज और सिंधिया की चली

चित्र
क्षेत्रीय-राजनीतिक और जातीय संतुलन का रखा गया विशेष ध्यान
भोपाल|  मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आखिरकार मंत्रिमंडल का गठन कर लिया. सीएम पद की शपथ लेने के करीब डेढ़ महीने बाद हुए इस मंत्रिमंडल विस्तार में फिलहाल 5 मंत्रियों को ही जगह दी गई है. इसीलिए इसे मिनी कैबिनेट भी कहा जा रहा है. इसमें नरोत्तम मिश्रा, कमल पटेल, तुलसीराम सिलावट, गोविंद सिंह राजपूत और मीना सिंह को शामिल किया गया है.भोपाल में राजभवन में राज्यपाल लालजी टंडन ने मंत्रियों को पद और गोपनीयता की शपथ दिलायी. मंत्रिमंडल देखने साफ हो जाता इसमे मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और हाल ही में भाजपा में ज्योतिरादित्य सिंधिया की ही चली है।
शिवराज के इस मिनी मंत्रिमंडल में क्षेत्रीय, जातीय और राजनीतिक तीनों समीकरणों का पूरा ध्यान रखा गया है. ग्वालियर, चंबल, बुंदेलखंड, मालवा, विंध्य और मध्य क्षेत्र से एक-एक को कैबिनेट में शामिल किया गया है. वहीं, जातिगत समीकरण साधने के लिए ब्राह्मण, क्षत्रिय, अनुसूचित जाति-जनजाति और पिछड़ा वर्ग से एक-एक चेहरे को मंत्री बनाया गया है.हालांकि फिलहाल किसी महिला को मंत्रिमंडल में जगह नहीं दी…

28 दिन बाद शिवराज ने बनाई अपनी टीम, 5 मंत्रियों नई ली सपथ

चित्र
भोपाल। मध्य प्रदेश में मंगलवार को शिवराज सरकार का मंत्रिमंडल विस्तार हुआ. कमलनाथ सरकार जाने के बाद शिवराज सिंह चौहान ने मुख्यमंत्री पद की शपथ ली थी, लेकिन अब करीब एक महीने के बाद 5 मंत्रियों को शपथ दिलाई गई है. इनमें कांग्रेस से भाजपा में आए ज्योतिरादित्य सिंधिया के समर्थक मंत्री भी शामिल हैं. शपथ ग्रहण के दौरान राजभवन में मंत्री समेत कई नेता मास्क पहने हुए भी नज़र आए और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन किया गया. शपथ लेने वालों में नरोत्तम मिश्रा, कमल पटेल, मीना सिंह, तुलसीराम सिलावट, गोविंद सिंह राजपूत शामिल हैं।
गौरतलब है कि एक तरफ देश में लॉकडाउन लगा हुआ है और इस दौरान किसी तरह के राजनीतिक कार्यक्रम की इजाजत नहीं दी जा रही है. इस सबके बीच आज शिवराज सरकार का कैबिनेट विस्तार हुआ है. कोरोना संकट के बीच राज्य में गृह या स्वास्थ्य मंत्री ना होने के कारण विपक्ष शिवराज सिंह चौहान पर निशाना साध रहा था. आपको बता दें कि इनमें से तुलसीराम सिलावट और गोविंद सिंह राजपूत की गिनती ज्योतिरादित्य सिंधिया के समर्थकों में होती है. ऐसे में साफ है कि कांग्रेस का दामन छोड़ भाजपा में आए सिंधिया का सरकार गठन में बड…

इंदौर में तीन दिन में कोरोना ने ली दो टीआई की जान, मुख्यमंत्री ने जताया दुख

चित्र
इंदौर। कोरोना वायरस संक्रमण की जद में आए 58 वर्षीय पुलिस निरीक्षक की मंगलवार तड़के यहां एक निजी अस्पताल में इलाज के दौरान मौत हो गई। अधिकारियों ने बताया कि उज्जैन के नीलगंगा थाने के प्रभारी यशवंत पाल ने इंदौर के अरविंदो अस्पताल में इलाज के दौरान आखिरी सांस ली।
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने पुलिस निरीक्षक के निधन पर शोक व्यक्त करते हुए ट्विटर पर कहा, 'कोविड-19 से लड़ते हुए कर्तव्य की बलिवेदी पर प्राण त्याग देने वाले उज्जैन के नीलगंगा क्षेत्र के थाना प्रभारी को विनम्र श्रद्धांजलि। ईश्वर उनकी पुण्य आत्मा को अपने चरणों में स्थान दें व शोकाकुल परिजनों को संबल प्रदान करें। हम सब उनके परिवार के साथ हैं।'
उज्जैन के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक (एएसपी) रूपेश कुमार द्विवेदी ने बताया कि कोरोना वायरस संक्रमण के बाद पुलिस निरीक्षक का उज्जैन के एक निजी अस्पताल में चार दिन तक इलाज चला था। हालत गंभीर होने पर उन्हें 10 दिन पहले इंदौर के अरविंदो अस्पताल भेजा गया था। लेकिन तमाम कोशिशों के बावजूद उनकी जान नहीं बचाई जा सकी।
एएसपी ने बताया कि पुलिस निरीक्षक के शोकसंतप्त परिवार में उनकी पत्नी और दो बेटिया…

मध्य प्रदेश सरकार ने कोटा भेजी डेढ़ सौ बसें, लौटते समय सर्वा के स्कूल में रुकेंगे छात्र

चित्र
भिण्ड। पढ़ाई के लिए राजस्थान के कोटा में लॉक डाउन में फंसे जिले के सैकड़ों छात्रों को वहां से सरकारी बसों से वापस लाया जा रहा है, जिन्हें गोहद क्षेत्र के सर्वा स्थित शासकीय उमाविद्यालय में लाया जाएगा, जहां जरूरी कार्रवाई पूरी होने के बाद उन्हें उनके घरों को रवाना किया जाएगा। इसकी तैयारियों का जायजा कलेक्टर छोटेसिंह ने लिया।
कलेक्टर छोटेसिंह ने गोहद में स्थित शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय सर्वा का निरीक्षण कर कोटा से लाए जा रहे जिले के बच्चों को उचित सुविधा प्रदान किए जाने के निर्देश दिए। उन्होंने बच्चों हेतु दो मेडिकल दल के माध्यम से चेकअप की व्यवस्था करवाने एवं बच्चों के भोजन पानी की व्यवस्था ठीक रखने के निर्देश संबंधित अधिकारियों को दिए। इस अवसर पर मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत एनके पाठक सहित अन्य अधिकारी/ कर्मचारी उपस्थित थे।
कलेक्टर ने कहा कि लॉकडाउन के कारण कोटा में पढ़ रहे जिले के बच्चे अपने घर नहीं आ पाए। प्रदेश के जो बच्चे कोटा में पढ़ रहे थे एवं लॉकडाउन की वजह से घर नहीं आ पाए। शासन द्वारा निर्णय लेकर ग्वालियर से बसें कोटा भेजी गई हैं, जो प्रदेश भर के बच्चों को लेकर आएं…

ज्ञान सरोवर शिक्षा एवं जन कल्याण समिति ने जरूरतमंदों को मास्क और भोजन का वितरण किया

चित्र
विदिशा। कोरोना वायरस रूपी महामारी के कारण देशभर में लोकडॉउन चल रहा है। इसके चलते गरीब और मज़दूर के सामने रोजी रोटी का संकट खड़ा हो गया है। उनको खाने तक के लाले पड़ रहे हैं। ऐसे में सामाजिक संस्था ज्ञान सरोवर शिक्षा एवं जन कल्याण समिति द्वारा शहर की बरईपुरा क्षेत्र मोहन गिरी अयोध्या बस्ती कुआं खेड़ी ,देव खजूरी, गुलाबगंज, सहित कई शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्रों में संस्था की महिला समूह द्वारा तैयार मास्क एवं भोजन वितरण किया गया।
संस्था के श्री संजय जैन और समस्त पदाधिकारियों द्वारा उक्त कार्य को किया गया। इसमें सामाजिक कार्यकर्ता एवं जेजेबी बोर्ड की सदस्य श्रीमती मंजरी जैन भी उपस्थित रही। संस्था की सदस्य एवं समूह प्रमुख श्रीमती रागिनी मिश्रा द्वारा भीम मास्टर तैयार किए गए जिनको शहर के विभिन्न भागों में वितरण किया गया। संस्था का उद्देश्य जिले में कोरोना वायरस को खत्म कर विजय प्राप्त करना है।
इस अवसर पर श्रीमती जैन ने कोरोना वायरस से बचाव हेतु बरती जाने वाली सावधानियो के बारे बताया। उन्होंने कहा कि सब्जियों एवं फलों को साफ कर बार-बार पानी से धोने के बाद ही इस्तेमाल करें। मुंह पर हमेशा मास्क लगाकर र…