नहीं मान रहा पाकिस्तन, कश्मीर में कोरोना फैलाने की बड़ी साजिश


नई दिल्ली। अपनी नापाक हरकतों के लिए दुनियाभर में बदनाम पाकिस्तान अभी भी नहीं मान रहा है। कोरोना वायरस के संक्रमण से लगभग तबाही की तरफ आगे बढ़ रहा पाकिस्तान अब अपने संक्रमित लोगों को कश्मीर में दाखिल करवाने की कोशिश में लगा है। भारतीय खुफिया एजेंसियों को इनपुट मिला है कि पीओके में आतंकवादियों के अलावा बड़ी संख्या में कोरोना वायरस के संक्रमित भी कश्मीर में घुसने की फिराक में लगे हुए हैं। इनका मकसद घाटी में संक्रमण को फैलाकर दहशत पैदा करना है। जम्मू और कश्मीर के डीजीपी दिलबाग सिंह ने भी इसकी पुष्टि करते हुए कहा है कि जब पूरी दुनिया कोरोना वायरस महामारी से लड़ रही है तब पाकिस्तान समर्थित आतंकवादी इस केंद्रशासित प्रदेश में शांति भंग करने के प्रयास कर रहे हैं। पुलिस महानिदेशक ने कहा कि हाल की एक रिपोर्ट बताती है कि पाकिस्तान में आतंकवादी प्रशिक्षण केंद्रों और उसके कब्जे वाले कश्मीर में कई आतंकवादी कोरोना वायरस से संक्रमित हैं। उन्होंने कहा कि पाकिस्तानी एजेंसियां आतंकवादियों को अंतरराष्ट्रीय सीमा और नियंत्रण रेखा पार कराने में मदद कर रही हैं। दिलबाग सिंह और जम्मू कश्मीर के उपराज्यपाल जी सी मुर्मू के सलाहकार आर आर भटनागर ने कश्मीर घाटी में सुरक्षा की स्थिति एवं कोविड-19 संकट पर चर्चा करने के लिए वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों के साथ मंगलवार को वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से बैठक की।
कोरोना वायरस के संक्रमण को पाकिस्तान में रोकने से विफल रहने पर इमरान खान की खासी खिंचाई हो रही है। विपक्षी पार्टियों समेत आम जनता तक इमरान की नाकामियों पर गुस्से का इजहार कर रहे हैं। हाल में ही इस्लामाबाद, लाहौर, क्वेटा सहित कई शहरों में डॉक्टरों ने मेडिकल किट के मांग को लेकर प्रदर्शन किया था। वहीं, उनकी वाजिब मांगों पर पाक सेना और पुलिस ने कड़ी कार्रवाई करते हुए कई डॉक्टरों को जेल में डाल दिया था। पाकिस्तान में मंगलवार को कोरोना वायरस संक्रमण से 16 और लोगों की मौत हो गई जिसके बाद देश में संक्रमण से मरने वालों की संख्या 201 पहुंच गई। देश में संक्रमित लोगों की संख्या भी बढ़कर 9,000 से अधिक हो गई है। प्रधानमंत्री ने कहा कि महामारी से निपटने में दूसरे देशों की तुलना में पाकिस्तान के सामने बड़ी चुनौती है क्योंकि देश को मौजूदा लॉकडाउन के बीच गरीबी से भी जूझना है और संकट का असर देश की कमजोर अर्थव्यवस्था पर पड़ सकता है ।

टिप्पणियां

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

राहुल की साहसिक पारी से जूनियर टीम ने सीनियर को दी शिकस्त