नई व्यवस्था: कंटेनमेंट क्षेत्र में अब सीसीटीवी कैमरे से निगरानी

ग्वालियर। बाहरी लाेगाें की आवाजाही पर पूरी तरह राेक लगाने के लिए पहली बार कंटेनमेंट एरिया (हाॅट स्पाॅट ) को सीसीटीवी कैमरे से लैस किया गया है। बहोड़ापुर स्थित मुबारक हुसैन की नारायण विहार कॉलोनी में जिला प्रशासन ने चार नाइट विजन कैमरे लगाए हैं। इनकी मदद से दिन-रात काॅलाेनी पर नजर रखी जा रही है। इन सीसीटीवी कैमरों की 20 दिन की रिकार्डिंग को सुरक्षित रखा जा सकता है। जिम्मेदार अफसराें का कहना है कि भविष्य में जहां भी कंटेनमेंट एरिया बनेगा, वहां कोरोना पीड़ित संक्रमित मरीज की गली में सीसीटीवी कैमरों से निगरानी की जाएगी।
अभी तक संक्रमित क्षेत्र के सभी मार्गाें पर बेरिकेड लगाकर रास्ते बंद किए जाते थे, लेकिन आईसीएमआर की नई गाइडलाइन ने कंटेनमेंट एरिया का दायरा कम पर दिया है। अब एडमिनिस्ट्रेटिव बाउंड्री ऑफ रेसिडेंसल कॉलोनी ही कंटेनमेंट एरिया कहलाएगी। इस कारण सुरक्षा व निगरानी के लिए प्रशासन कैमराें की मदद ले रहा है। कंटेनमेंट एरिया में लगे सीसीटीवी कैमरे के फुटेज जिला और पुलिस प्रशासन के बड़े अधिकारी अपने मोबाइल देख सकते हैं। इस तरह वे कंटेनमेंट एरिया की सीधी माॅनीटरिंग कर सकेंगे। मंगलवार रात 10 बजे कलेक्टर कौशलेंद्र विक्रम सिंह ने अपनी गाड़ी में मोबाइल पर सीसीटीवी में रिकॉर्ड हो रहा दृश्य देखा तो कंटेनमेंट जोन में बिजली गुल होने का पता लगा। इस पर उन्होंने एडीएम किशोर कन्याल को फोन कर बिजली सप्लाई दुरुस्त करवाई।

टिप्पणियां

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

प्रदेश में मजदूर कमीशन बनेगा, छोटे काम करने वालों को मिलेंगे 10 हजार रुपए