स्कूली बच्चे अपनी किताबों में पढ़ेंगे कोविड-19 के संक्रमण से सुरक्षा के उपाय


भोपाल। अब प्रदेश के स्कूलों के बच्चे कोविड-19 से सुरक्षा के उपाय के बारे में पढ़ेंगे। इसके लिए मप्र स्कूल शिक्षा विभाग ने एक पहल की है। इस वायरस से संबंधित सुरक्षा के उपाय को पाठ्यपुस्तकों में संदेश के रूप में शामिल किया जा रहा है। अगले सत्र से पहली से लेकर बारहवीं कक्षा के सभी विषयों की किताबों में दो पेज का संदेश जोड़ा जाएगा। इस सत्र से सिर्फ 9वीं और 11वीं के बच्चे इस संदेश को पढ़ पाएंगे, क्योंकि दोनों कक्षाओं की भाषा की किताबों की छपाई अभी नहीं हुई है।
जबकि अन्य सभी कक्षाओं की किताबें छपकर तैयार हो गई हैं। इसमें पहले पेज में कोविड-19 से बचाव के उपाय और दूसरे पेज में शाला स्वच्छता और सुरक्षा को शामिल किया गया है। वहीं, अगले सत्र से राष्ट्रीय शिक्षा अनुसंधान एवं प्रशिक्षण परिषद (एनसीईआरटी) कोरोना वायरस के विषय में जानकारी पाठ्यक्रम में शामिल करने पर विचार कर रहा है। अभी तक स्कूलों में जीवविज्ञान के पाठ्यक्रमों में एड्स, मलेरिया, स्मॉल पॉक्स, स्वाइन लू, हेपेटाइटिस-बी, हैजा और अन्य रोग-वायरस के बारे में विद्यार्थी पढ़ते हैं।

टिप्पणियां

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सरकार बताए मुर्ति का साईज छोटा करने से कैसे रुकेगा कोरोना: जगवीर दास