20 अगस्त से 1 सितंबर के बीच चालू हो सकता है शिक्षण सत्र


ग्वालियर। प्रदेश के कॉलेज और यूनिवर्सिटी में अकादमिक कैलेंडर बनाने, परीक्षा आयोजित कराने संबंधी उपाय कर अनुशंसा करने के लिए राजभवन की ओर से 6 सदस्यीय समिति का गठन किया गया था। इस समिति का संयोजक जीवाजी यूनिवर्सिटी की कुलपति प्रो. संगीता शुक्ला को बनाया गया था। समिति के सदस्यों ने लगातार वीडियो कान्फ्रेंसिंग के जरिए बैठकें करके अपनी रिपोर्ट तैयार कर दी है। समिति के सदस्यों के बीच अकादमिक सत्र 20 अगस्त से 1 सितंबर के बीच शुरू करने पर सहमति बनी है। इसके अलावा परीक्षा की समय सीमा दो घंटे तय किए जाने पर भी सहमति बनी है। ऐसा होने से एक दिन में 3 शिफ्टें आयोजित करके परीक्षाएं कराई जा सकेंगी। उल्लेखनीय है कि विवि अनुदान आयोग ने नए शिक्षा सत्र को लेकर देश भर की यूनिवर्सिटी को सुझाव दिए थे।

टिप्पणियां

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

प्रदेश में मजदूर कमीशन बनेगा, छोटे काम करने वालों को मिलेंगे 10 हजार रुपए