पीएम मोदी ने की मुख्यमंत्रियों से बात, लॉकडाउन बढ़ना तय लेकिन ज्यादा मिलेगी छूट


नई दिल्ली। लॉकडाउन 17 मई के बाद भी जारी रहेगा, यह लगभग तय है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए मुख्यमंत्रियों के साथ बातचीत के बाद जारी बयान से करीब-करीब साफ हो चुका है कि लॉकडाउन का चौथा चरण भी होगा। प्रधानमंत्री ने मुख्यमंत्रियों से कहा है कि वो अपने-अपने राज्यों में लॉकडाउन की कैसी व्यवस्था चाहते हैं, उसका डीटेल 15 मई तक दे दें। कहा जा सकता है कि 17 मई को तीसरा चरण खत्म होने के बाद लॉकडाउन हटने नहीं जा रहा है। यह अलग बात है कि जिस तरह पहले के मुकाबले दूसरे चरण में और फिर दूसरे के मुकाबले तीसरे चरण में ढिलाई और छूट का दायरा बढ़ता गया, उसी तरह 17 मई के बाद चौथे चरण में प्रवेश करने पर लॉकडाउन में कुछ और गतिविधियों की अनुमति दी जाएगी। यह किसी और ने नहीं, बल्कि खुद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मीटिंग के दौरान कहा।
प्रधानमंत्री कार्यालय (PMO) की तरफ से जारी बयान के मुताबिक पीएम ने कहा, 'मेरा दृढ़ विश्वास है कि लॉकडाउन के पहले चरण में जिन नियमों की दरकार थी, वो दूसरे चरण में जरूरी नहीं रह गईं। उसी तरह तीसरे चरण के नियमों की दरकार चौथे चरण के लॉकडाउन में नहीं है।' प्रधानमंत्री के इस बयान से संदेह की गुंजाइश नहीं के बराबर रह जाती है कि लॉकडाउन की मियाद 17 मई के बाद भी बढ़ेगी और 18 मई से लॉकडाउन का चौथा चरण शुरू हो जाएगा। उम्मीद की जा सकती है कि जल्द ही चौथे चरण के लॉकडाउन की मियाद का ऐलान भी हो जाए। तमिलनाडु के मुख्यंत्री के. पलानीस्वामी, बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार समेत कुछ मुख्यमंत्रियों ने 31 मई तक लॉकडाउन लागू रखने का सुझाव दिया। वहीं, राजस्थान समेत कुछ राज्यों ने लॉकडाउन को अपने यहां 31 मई तक बढ़ाने का फैसला कर लिया। उधर, उत्तर प्रदेश में गाजियाबाद के डीएम ने भी जिले में 31 मई तक लॉकडाउन बढ़ाने का नोटिस जारी किया है।

टिप्पणियां

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सरकार बताए मुर्ति का साईज छोटा करने से कैसे रुकेगा कोरोना: जगवीर दास