प्रदेश में कोरोना से तीसरे प्रोफ़ेसर डॉ. मधु जैन का दु:खद निधन


भोपाल। डॉ. सुनील पारे और डॉ. संजय जैन के बाद शुक्रवार को प्रदेश के तीसरे प्रोफ़ेसर की कोविड-19 के कारण मृत्यु हो गई।मध्य प्रदेश शासन के इंस्टीट्यूट फॉर एक्सीलेंस इन हायर एजुकेशन, भोपाल की हिंदी की प्रोफ़ेसर डॉ. मधु जैन का आज दु:खद निधन हो गया। वे लगभग 55 वर्ष की थीं। शासकीय हमीदिया अस्पताल में उनका पिछले दो हफ़्ते से इलाज चल रहा था। इंदौर और उज्जैन की तुलना में भोपाल में स्थिति ज़्यादा ख़राब है।राजधानी में रोज़ औसतन 50 कोरोना पॉज़िटिव आ रहे हैं।राज्य सरकार ने इंदौर के बाद कल भोपाल के कलेक्टर को भी बदल दिया था।तरुण कुमार पिथोड़े के स्थान पर आज अविनाश लवानिया ने नए कलेक्टर के रूप में भोपाल में कार्यभार संभाल लिया।वे गृह मंत्री
डॉ. नरोत्तम मिश्रा के दामाद हैं।देखना होगा कि लवानिया राजधानी में महामारी को नियंत्रित कर पाते हैं या नहीं ? डॉ. मधु के निधन के बाद प्रदेश के उच्च शिक्षा विभाग में शोक की लहर के साथ-साथ दहशत भी व्याप्त हो गई है। हालाँकि सरकार ने कॉलेजों में 30 जून तक छुट्टी घोषित कर दी है और परीक्षाएँ भी स्थगित कर दी गईं हैं। डॉ. मधु जैन को सादर विनम्र श्रद्धांजलि।

टिप्पणियां

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

प्रदेश में मजदूर कमीशन बनेगा, छोटे काम करने वालों को मिलेंगे 10 हजार रुपए