संकट मोचन मंदिर गोलपाड़ा में 72 दिन से निरंतर चल रहा है हवन यज्ञ


हर चेहरे पर हो मुस्कान, यही मेरे जीवन का अरमान : जगवीर सिंह तोमर
ग्वालियर। गोलपाड़ा किलागेट स्थित संकट मोचन हनुमान (बालाजी) मंदिर में 72 दिनों से प्रतिदिन शाम 8 बजे हवन यज्ञ किया जा रहा है। इस यज्ञ का उद्देश्य देश से कोरोना रूपी महामारी को खत्म करना और अयोध्या में रामलला की स्थापना है। बालाजी महाराज के चरण सेवक जगवीर सिंह तोमर ने बताया कि कलियुग में हमारे हर दुःख सुख का ध्यान रखने की जिम्मेदारी प्रभु हनुमान जी महाराज पर है। यही कारण है कि हम सभी कोरोना रूपी महामारी को जड़ से खत्म करने के लिए उन्ही की शरण में है।
श्री तोमर ने कहा यज्ञ से भगवान जल्दी प्रसन्न होते है। इसीलिये बालाजी सरकार को प्रसन्न करने और कोरोना को जड़ से खत्म करने के लिए तीसरा लोकडाउन शुरू होने के साथ यानी 4 मई से मंदिर ने हवन यज्ञ की शुरूआत हुई थी। जो आज दिनांक तक अनवरत रूप से चल रहा है। इसके साथ ही यह भी तय किया गया है कि जब तक अयोध्या में राम मंदिर नहीं बन जाता तब तक यह यज्ञ जारी रहेगा। इस हवन यज्ञ शहर का कोई भी भक्त भाग ले सकता है। इसके लिए उसे अपना पंजीयन कराना होगा जो कि पूर्णतः निःशुल्क है। हवन के लिए सारी सामग्री मंदिर में उपलब्ध कराई जाती है।
हर मंगलवार को लगता है सवामणी का भोग : बालाजी सरकार को खुश करने के लिए भक्त हर मंगलवार को सवामणी का भोग लगाते है। इसमे के तरह के व्यंजन शामिल रहते है। बालाजी महाराज को भोग लगाने के बाद इस प्रसादी को भक्तों को परोसा जाता है।

टिप्पणियां

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

कोरोना काल में उत्कृष्ट कार्य के लिए कलेक्टर ने किया मीना शर्मा को सम्मानित