शहरों के मास्टर प्लान को समीक्षा करें : भूपेन्द्र सिंह


भोपाल। निर्धारित प्रावधानों के अनुसार शहरों के मास्टर प्लान को रिव्यू करें। जरूरत हो तो इसके लिये एक्सपर्ट एजेंसी की सेवाएँ ली जा सकती हैं। नगरीय विकास एवं आवास मंत्री श्री भूपेन्द्र सिंह ने यह निर्देश नगर एवं ग्राम निवेश संचालनालय के कार्यों की समीक्षा के दौरान दिये।नगरीय विकास एवं आवास मंत्री श्री सिंह ने कहा कि कई शहरों का विस्तार इतना हो गया है कि मास्टर प्लान में निर्धारित कृषि भूमि शहर के अंदर आ गयी है। उन्होंने कहा कि इस भूमि का डायवर्सन नहीं होने से किसानों को इसका लाभ नहीं मिल पाता है। श्री सिंह ने कहा कि मास्टर प्लान के रिव्यू होने से इनको लाभ मिल सकेगा। उन्होंने कहा कि कृषि भूमि के उपयोग के संबंध में अलग से भी नीति बनायें, जिससे किसानों को फायदा मिल सके। बैठक में बताया गया कि भोपाल मास्टर प्लान में दावे-आपत्ति 9 अगस्त, 20 तक बुलायी गयी हैं।
बैठक में आयुक्त नगर एवं ग्राम निवेश श्री अजीत कुमार ने बताया कि भोपाल, इंदौर, ग्वालियर एवं जबलपुर में वेब बेस्ड एप्लीकेशन अल्पास के माध्यम से भूमि उपयोग की जानकारी एवं विकास अनुज्ञा ऑनलाइन दी जा रही है। प्रदेश के 16 अन्य शहरों में भी भूमि उपयोग का प्रमाण-पत्र ऑनलाइन दिया जा रहा है। जीआईएस आधारित विकास योजना बनायी जा रही है।


टिप्पणियां

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सरकार बताए मुर्ति का साईज छोटा करने से कैसे रुकेगा कोरोना: जगवीर दास