नरोत्तम मिश्रा ने कहा- मांग तो कोई भी कर सकता है मांग करने में क्या बुराई है


ग्वालियर। सिंधिया समर्थकों द्वारा गृह मंत्रालय सहित बड़े मंत्रालय मांगे जाने की अटकलों पर मध्य प्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा का कहना है मांग तो कोई भी कर सकता है, मांग करने में क्या बुराई है। लगातार चौथे रविवार ग्वालियर प्रवास पर पहुचे गृह मंत्री ने यह बात पूर्व विधायक एवं सिंधिया समर्थक नेता रमेश अग्रवाल से मुलाकात के बाद कही। अपने प्रवास के दौरान रात करीबन 10:45 बजे नरोत्तम मिश्रा, पाटनकर चौराहा स्थित रमेश अग्रवाल के निवास पर पहुचे। इस दौरान क्षैत्रीय सांसद विवेक शेजवलकर, भाजपा जिलाध्यक्ष कमल माखीजानी तथा वरिष्ठ पत्रकार केशव पांडे मौजूद थे। सर्वप्रथम गृह मंत्री ने केशव पांडे की एक किताब का विमोचन किया। इसके उपरांत कुछ देर बंद कमरे में बात की। यहां मुलाकात के बाद पत्रकारों से चर्चा में नरोत्तम मिश्रा ने बताया कि पूर्व विधायक रमेश अग्रवाल से उनके 20 साल पुराने सबंध हैं। एक बार वह उनके साथ सपरिवार लंबी यात्रा भी कर चुके है। इसीलिए वह मिलने आये थे। नरोत्तम मिश्रा ने पूर्व विधायक से मुलाकात को पारिवारिक सौजन्य भेंट बताया। सिंधिया समर्थकों द्वारा गृह मंत्रालय सहित बड़े मंत्रालय मांगे जाने की अटकलों पर नरोत्तम मिश्रा का कहना है कि मांग तो कोई भी कर सकता है मांग करने में क्या बुराई है। साथ ही उन्होंने सिंधिया समर्थक शब्द का इस्तेमाल करने पर भी आपत्ति जताई। उनका कहना है कि सिंधिया समर्थक नहीं सब पार्टी के हैं। इससे पहले गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ग्वालियर आगमन पर सर्वप्रथम भाजपा नेता प्रीतम लोधी से मिलने जलालपुर पहुचे। उनके साथ भाजपा जिलाध्यक्ष कमल माखीजानी मौजूद थे। यहां उनका बुके भेंट कर प्रीतम लोधी ने आत्मीय स्वागत किया। इस अवसर पर जलालपुर के सिख समाज की ओर से गृह मंत्री को सरोपा भेंट किया गया। तदुपरांत नरोत्तम मिश्रा ने प्रीतम लोधी से बंद कमरे में कुछ देर बात की। थोड़ी देर रुकने के बाद गृह मंत्री अपने काफिले के साथ गंतव्य की ओर रवाना हो गए।


टिप्पणियां

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सरकार बताए मुर्ति का साईज छोटा करने से कैसे रुकेगा कोरोना: जगवीर दास