कांग्रेस के विश्वासघात का जवाब चुनाव में ब्याज सहित दें : शिवराजसिंह


मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चैहान ने भारतीय जनता पार्टी की सदस्यता लेने वाले कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा कि आप जिस विश्वास से भाजपा परिवार में आये हैं, मेरे प्राण भले ही चले जायें, लेकिन आपके उस विश्वास को टूटने नहीं दूंगा। उन्होंने कहा कि आप सब कमर कसकर चुनाव में उतरें और कांग्रेस ने, कमलनाथ ने, ग्वालियर- चंबल क्षेत्र की जनता और ज्योतिरादित्य जी के साथ जो विश्वासघात किया है, उसका हिसाब ब्याज सहित उपचुनावों में वसूल कर लें। श्री चैहान ने कहा कि भाजपा कार्यकर्ता आधारित पार्टी है, यही कारण है कि यहां बूथ अध्यक्ष भी राष्ट्रीय अध्यक्ष बन सकता है, लेकिन दशकों से कांग्रेस में एक ही परिवार के व्यक्ति अध्यक्ष बने बैठे हैं। जवाहरलाल नेहरू जी, फिर इंदिरा गांधी, राजीव गांधी, फिर सोनिया गांधी, राहुल गांधी और फिर सोनिया गांधी अध्यक्ष बनी। कांग्रेस में सिर्फ 'मोहम्मद की टोपी अहमद के सिर और अहमद की टोपी मोहम्मद के सिर' की परंपरा है। उन्होंने कहा कि मध्यप्रदेश में भी कांग्रेस के यही हाल हैं। यहां अध्यक्ष भी कमलनाथ, मुख्यमंत्री का नम्बर आये तो भी कमलनाथ, नेता प्रतिपक्ष भी कमलनाथ और युवाओं का नेता नकुलनाथ, बाकी सब अनाथ हैं। श्री सिंह ने कहा कि कांग्रेस में कार्यकर्ताओं के साथ विश्वासघात की परंपरा रही है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने झूठे वादों के सहारे सरकार बनाई और कमलनाथ जी ने किसानों, युवाओं और महिलाओं से किया एक भी वादा पूरा नहीं किया। इसके लिए कमलनाथ को जनता ही सजा देगी। श्री चैहान ने कहा कि मुख्यमंत्री रहते कमलनाथ ने प्रदेश में कोई विकास नहीं किया। जब भी विधायक कोई मांग करते, तो वे पैसों की कमी का रोना रोते थे। श्री चैहान ने कहा कि कोरोना काल में टैक्स नहीं आ रहे हैं, लेकिन हमारी सरकार ने 2200 करोड़ रुपया फसल बीमा का प्रीमियम जमा करके 3100 करोड़ रुपये किसानों के खाते में जमा करवा दिये। सितंबर के पहले सप्ताह में साढ़े 4 हजार करोड़ रुपया और किसानों के खाते में जमा होगा। श्री चैहान ने कहा कि 37 लाख नये लोगों के नाम जोड़कर उन्हें एक सितंबर से निरूशुल्क राशन देना शुरू कर देंगे। उन्होंने कहा कि आने वाले तीन साल में हम सब मिलकर आत्मनिर्भर मध्यप्रदेश बना देंगे।

टिप्पणियां

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

प्रदेश में मजदूर कमीशन बनेगा, छोटे काम करने वालों को मिलेंगे 10 हजार रुपए