लद्दाख तनाव: भारत की तैयारियों से बौखलाए चीन ने Black Top Hill पर बढ़ाई तैनाती


पेइचिंग। भारत और चीन के बीच लद्दाख में जारी तनाव के बीच दोनों देशों के मंत्री जहां शांति वार्ताएं कर रहे हैं, सीमा पर सैन्य तैनाती तेजी पकड़ती जा रही है। पिछले दिनों ऐसी खबरें आ रही थीं कि चीन ने देशभर से अपनी सेना बुलाकर फाइटर और मिसाइलों के साथ तैनात कर दिए हैं। इसके बाद भारतीय सैनिकों ने भी पैंगॉन्ग झील के पास 6,000 मीटर ऊंची चोटी पर मोर्चा जमा लिया जहां से PLA की गतिविधियों पर नजर रखी जा सकती है। अब ताजा सैटलाइट तस्वीरों में देखा जा सकता है कि चीन ने भी ब्लैकटॉप हिल पर अपनी तैनाती बढ़ा दी है। ओपन इंटेलिजेंस सोर्स detresfa ने ताजा सैटलाइट तस्वीरें शेयर की हैं जिनमें दिख रहा है कि चीन ने ब्लैकटॉप हिल के इलाके के आसपास भारी तैनाती शुरू कर दी है। चीन सुनिश्चित करना चाहता है कि यहां कोई मूवमेंट न हो और अगर हो तो उससे निपटा जा सके। भारतीय खेमे की तैयारी से बौखलाए चीन ने यहां सपॉर्ट कैंप भी तेजी से लगाने शुरू कर दिए हैं।
चीन ने देशभर से बुलाई सेना : पिछले दिनों चीन के प्रॉपगैंडा अखबार ग्लोबल टाइम्स ने दावा किया था कि चीन की सेना ने देश के अलग-अलग कोनों से सेना को बुलाकर भारत के साथ सीमा पर लगा दिया है। यहां PLA के सैनिक युद्धाभ्यास कर रहे हैं। इनके साथ यहां बॉम्बर, तोप, रॉकेट, मिसाइल सिस्टम और फाइटर जेट भी तैनात हैं। सेना ने अपनी ओर फाइबर ऑप्टिक केबल और पावर लाइन्स भी बिछा रखी हैं।
भारत ने तैनात कर रखी है सेना : चीन की गतिविधियों को देखते हुए भारतीय सैनिकों ने PLA के कैंप के बहुत ऊपर पहुंचकर कैंप बना लिए हैं। भारत ने सामरिक ठिकानों पर मोर्चेबंदी के अलावा फिंगर 2 और फिंगर 3 इलाके में अपनी मौजूदगी बढ़ा दी है। ऐसा इसलिए क्योंकि चीन ने पूर्वी लद्दाख के चुशूल सेक्टर के सामने भारी संख्या में फौजें भेज दी हैं। उससे पहले हथियारों और भारी युद्धक उपकरणों से पूरी तरह लैस भारतीय सैनिकों ने ठाकुंग (Thakung) से लेकर रेक इन दर्रा (Req in La) तक की सभी महत्वपूर्ण चोटियों पर अपनी मोर्चेबंदी मजबूत कर ली ताकि भविष्य में चीनी सेना के किसी भी दुस्साहसिक प्रयासों का मुंहतोड़ जवाब दिया जा सके।

टिप्पणियां

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

प्रदेश में मजदूर कमीशन बनेगा, छोटे काम करने वालों को मिलेंगे 10 हजार रुपए