लोगों के मन से कोरोना का डर भगाने और आत्म शक्ति बढ़ाने शहर में घूम रहा बालाजी महाराज का रथ


ग्वालियर। कोरोना महामारी से शहरवासियों में बढ़ रहे डर को दूर करने एवं आत्म शक्ति बढ़ाने के लिए गोल पाड़ा स्थित संकट मोचन बालाजी मंदिर की तरफ से एक रथ शहर भर में घूम रहा है। यह रथ न सिर्फ कोरोना के डर को दूर करने के उपाय बता रहा है बल्कि इस महामारी को खत्म करने के लिए संकट मोचन हनुमान बालाजी मंदिर में कोरोना काल में की गई भक्ति और बालाजी सरकार की कृपा के बारे में भी लोगों को जानकारी दे रहा है।
बालाजी सरकार के चरण सेवक जगबीर दास ने बताया के रथ के जरिए वे लोगों की आत्मशक्ति को बढ़ाना चाहते हैं। उन्होंने कहा कि आत्मशक्ति सबसे बड़ा धन है जो हर मुसीबत में हमारी राह आसान करती है। कोरोना जैसे संकट से निपटने की शक्ति प्रदान करती है। जो हमें हनुमान जी द्वारा प्रेरित तुलसीकृत रामचरितमानस रामायण से मिलती है। हनुमान जी महाराज अदृश्य रूप से जीवित थे, जीवित हैं और जीवित रहेंगे। यह प्रमाणित किया है संकट मोचन हनुमान बालाजी मंदिर ने।

4 मई से लगातार चल रहा है हवन यज्ञ
4 मई 2020 से भारत सरकार द्वारा लगाए गए तीसरे लॉकडाउन से गोल पाड़ा स्थित संकट मोचन हनुमान बालाजी मंदिर पर कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए निरंतर हवन यज्ञ जारी है जो अयोध्या में रामलला के भव्य मंदिर निर्माण में कोई बाधा ना आए इसके लिए प्रारंभ किया गया है पुलिस टॉप इसकी पूर्णाहुति उसी दिन होगी जिस दिन अयोध्या में रामलला अपने स्थान पर विराजमान होंगे तब तक यह हवन यज्ञ निरंतर जारी रहेगा।

टिप्पणियां

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

प्रदेश में मजदूर कमीशन बनेगा, छोटे काम करने वालों को मिलेंगे 10 हजार रुपए