कृषि बिल के खिलाफ प्रदर्शन पंजाब को छोड़कर अन्य राज्यों में बेअसर


नई दिल्ली। किसानों से जुड़े कृषि बिल के विरोध में आज देशभर के किसान संगठनों का भारत बन्द शुरू हो चुका है। देश के कई भागों में किसानों के प्रदर्शन शुरू हो चुके हैं। लेकिन पंजाब को छोड़कर इस आन्दोलन का बाकी ठिकानों पर अधिक प्रभाव देखने को नहीं मिल रहा है। किसानों के 30 से अधिक संगठनों की ओर से बुलाये गये इस आन्दोलन को कई राजनैतिक पार्टी भी समथ्रन दे रही है।
सबसे अधिक असर पंजाब में : संसद में पेश कृषि बिल के खिलाफ पंजाबमें 24-26 सितम्बर तक रेल रोको आन्दोलन चल रहा है। इसके साथ ही पंजाब में आज 2 सौ से अधिक जगहों पर प्रदर्शन हो रहे हैं। लोग सुबह से ही विभिन्न जगहों पर रेल पटरियों को घेरकर बैठे हैं। कई जगह सड़कों पर भी किसान धरना दे रहे हैं। हालात को देखते हुए रेलवे ने पंजाब -हरियाणा से होकर गुजरने वाली ट्रेने कैंसिल कर दी गयी है। इस आन्दोलन को कांग्रेस, अकाली दल और आप समर्थन दे रही है।
पंजाब में ये ट्रेनें रद्द हुई : किसान आंदोलन की वजह से रेलवे के फिरोजपुर डिवीजन ने कई स्पेशल ट्रेनें रोक दी हैं । इसके साथ ही राज्य में शनिवार तक 26 ट्रेनों का परिचालन रद्द कर दिया गया है। रद्द होने वाली ट्रेनों में गोल्डन टेम्पल मेल (अमृतसर-मुंबई मध्य), जन शताब्दी एक्सप्रेस (हरिद्वार-अमृतसर), नई दिल्ली-जम्मू तवी, कर्मभूमि (अमृतसर-न्यू जलपाइगुड़ी), सचखंड एक्सप्रेस  (नांदेड़-अमृतसर), शहीद एक्सप्रेस (अमृतसर-जयनगर) भी शामिल हैं।

टिप्पणियां

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

मुरैना में 10, ग्वालियर और भिंड में 7-7, शिवपुरी व श्योपुर में 1-1 संक्रमित