शिक्षक समाज को गढ़कर निभाएं भूमिका : सीएम शिवराज सिंह चौहान


भोपाल। मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने शिक्षक दिवस पर समस्त शिक्षकों को बधाई दी है। अपने संदेश में कहा है कि समाज को गढ़ने का महत्वपूर्ण कार्य शिक्षक ही करते हैं। आदर्श नव पीढ़ी के निर्माण का महत्वपूर्ण दारोमदार शिक्षकों पर है। प्राचीन शिक्षा व्यवस्था में शिक्षक को गुरु कहा गया जिसका अर्थ है ईश्वर तुल्य भूमिका का निर्वहन करना। वास्तव में शिक्षण कार्य इस सृष्टि में पावन कार्यों में से एक है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि कोरोना काल में भी शिक्षकों ने वर्चुअल कक्षाओं के माध्यम से विद्यार्थियों को शिक्षित, प्रशिक्षित करने का कार्य किया। इस अवधि में शिक्षकों की भूमिका सराहनीय रही। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने विद्यार्थियों से भी शिक्षक समाज को यथोचित सम्मान देकर उनके बताए मार्ग पर चलते हुए राष्ट्र के लिए रचनात्मक भूमिका निभाने का आव्हान किया है।

भोपाल। मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने शिक्षक दिवस पर समस्त शिक्षकों को बधाई दी है। अपने संदेश में कहा है कि समाज को गढ़ने का महत्वपूर्ण कार्य शिक्षक ही करते हैं। आदर्श नव पीढ़ी के निर्माण का महत्वपूर्ण दारोमदार शिक्षकों पर है। प्राचीन शिक्षा व्यवस्था में शिक्षक को गुरु कहा गया जिसका अर्थ है ईश्वर तुल्य भूमिका का निर्वहन करना। वास्तव में शिक्षण कार्य इस सृष्टि में पावन कार्यों में से एक है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि कोरोना काल में भी शिक्षकों ने वर्चुअल कक्षाओं के माध्यम से विद्यार्थियों को शिक्षित, प्रशिक्षित करने का कार्य किया। इस अवधि में शिक्षकों की भूमिका सराहनीय रही। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने विद्यार्थियों से भी शिक्षक समाज को यथोचित सम्मान देकर उनके बताए मार्ग पर चलते हुए राष्ट्र के लिए रचनात्मक भूमिका निभाने का आव्हान किया है।

टिप्पणियां

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

कांग्रेस दूसरी लिस्ट एक-दो दिन में जारी कर सकती है, 12 सीटों पर प्रत्याशियों के नाम तय