माता की मूर्ति का साइज छोटा करने के विरोध में संकट मोचन मन्दिर गोलपाड़ा पर शिवराज सरकार का पुतला दहन आज


ग्वालियर। मप्र की शिवराज सरकार द्वारा नौदुर्गों में माता की मूर्तियों का साइज छोटा कर स्थापना की मंजूरी देने एवं पंडाल को छोटा रखने के निर्णय का धर्मप्रेमी लगातार विरोध कर रहे हैं। इसी कड़ी में 29 सितंबर मंगलवार को शाम 8 बजे संकट मोचन मंदिर गोलपाड़ा किलागेट पर प्रदेश की शिवराज सरकार का पुतला दहन किया जाएगा।
बालाजी सरकार के चरणसेवक जगबीर दास ने प्रदेश सरकार से पूछा है कि वह बताये कि कोरोना महामारी और माता का साइज छोटा करने का क्या संबंध है। इसके साथ ही माता का पंडाल छोटा रखने से भक्त सोशल डिस्टेसिंग का पालन किस तरह कर पाएंगे। यह नियम धर्म और आस्था के साथ-साथ कोरोना गाइडलाइन के विपरीत हैं इसलिए प्रदेश सरकार को तत्काल यह नियम बदलकर माता का साईज और पंडाल का साइज सीमित करने की गाइडलाइन को रद़द करने का आदेश निकालना चाहिए। उन्होंने कहा क‍ि इसके साथ ही प्रदेश सरकार जिस तरह धर्म और आस्था पर नियम लागू कर रही है उसी तरह राजनीतिक गतिविधियों पर भी उसे इन्हीं नियमों को सख्ती से लागू करना चाहिए। साथ ही उन्होंने कहा कि अगर सरकार अभी भी नहीं चेती तो नवदुर्गा महोत्सव के दौरान प्रतिदिन रात 9 बजे मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का पुतला दहन किया जाएगा।

टिप्पणियां

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

डॉ. कलाम की स्मृति में स्कूलों में मनेगा राष्ट्रीय आविष्कार सप्ताह