राजद से इस्तीफा देने वाले रघुवंश दुनिया को भी अलविदा कह गए, एम्स में ली अंतिम सांस


नई दिल्ली। बिहार के दिग्गज नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री रघुवंश प्रसाद सिंह का निधन हो गया है। दिल्ली एम्स में उन्होंने आखिरी सांस ली। हाल ही में रघुवंश प्रसाद सिंह की तबीयत बिगड़ने के उन्हें दिल्ली एम्स में भर्ती कराया गया था। जहां शुक्रवार देर रात अचानक ही उनकी तबीयत ज्यादा बिगड़ गई, जिसके बाद उन्हें वेटिंलेटर सपोर्ट पर रखा गया। डॉक्टर लगातार उनकी सेहत की निगरानी कर रहे थे लेकिन तबीयत लगातार बिगड़ रही थी। परिवार ने उनके निधन की पुष्टि की है। उनका अंतिम संस्कार कल यानी सोमवार को होगा। किसी को क्या पता था कि बिहार के जननेता की छवि रखने वाले रघुवंश प्रसाद सिंह राष्ट्रीय जनता दल से इस्तीफा देने के साथ ही दुनिया को अलविदा कह जाएंगे। कहां तो बिहार में यह चर्चा चल रही थी कि रघुवंश प्रसाद अब किस दल की सदस्यता ग्रहण करेंगे, लेकिन वे तो दुनिया को ही छोड़ गए।
पूर्व केंद्रीय मंत्री रघुवंश प्रसाद सिंह की पहचान बिहार के कद्दावर नेता के तौर पर होती थी। हाल ही अचानक तबीयत बिगड़ने की वजह से दिल्ली के एम्स में भर्ती कराया गया था। दिल्ली एम्स में शिफ्ट कराए जाने के बाद गुरुवार को रघुवंश प्रसाद सिंह ने आरजेडी मुखिया लालू प्रसाद यादव के नाम एक पत्र लिखा। जिसमें उन्होंने आरजेडी छोड़ने का ऐलान किया था। हालांकि, उनके आरजेडी से इस्तीफे को लालू यादव ने पत्र लिखकर नामंजूर कर दिया था। साथ ही उन्हें मनाने की कोशिश करते हुए कहा था कि वो कहीं नहीं जा रहे। अब रघुवंश प्रसाद सिंह के निधन की खबर से लालू प्रसाद यादव बेहद दुखी हैं। उन्होंने ट्वीट करके कहा, 'प्रिय रघुवंश बाबू! ये आपने क्या किया? मैंने परसों ही आपसे कहा था आप कहीं नहीं जा रहे हैं। लेकिन आप इतनी दूर चले गए। नि:शब्द हूं। दुःखी हूं। बहुत याद आएंगे।' रघुवंश प्रसाद सिंह ने लालू यादव को चिट्ठी लिखकर आरजेडी से इस्तीफा देने के बाद बिहार के सीएम नीतीश कुमार को भी एक पत्र लिखा था। दिल्ली के एम्स से ही उन्होंने ये पत्र लिखा, इसमें उन्होंने तीन मांगे बिहार के सीएम से की थीं।

टिप्पणियां

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

प्रदेश में मजदूर कमीशन बनेगा, छोटे काम करने वालों को मिलेंगे 10 हजार रुपए