विधानसभा उपचुनावों मे शिवराज-सिंधिया और कमलनाथ की साख दाव पर


ग्वालियर। मप्र के उपचुनाव में 28 विधानसभा सीटों पर सिंधिया को 22 सीटों पर, जिसमें 16 सीटों उनके प्रभाव क्षेत्र ग्वालियर -चम्बल की है। उन्हें बचाना सबसे बड़ी चुनोती है। मुख्य मुकाबला ग्वालियर और चम्बल की 16 सीटों पर होगा। बीजेपी जहां पर अपनी सत्ता बरकरार रखने के लिये सदस्यता अभियान चला रही है। वहीं, दूसरी ओर कांग्रेस भी सत्ता में आने का भरसक प्रयास कर रही हैं। कांग्रेस ने 15 सीटों पर उम्मीदवारों का ऐलान कर दिया है। वहीं, बीजेपी के 25 सीटों पर प्रत्याशी लगभग तय हो चुके हैं। लेकिन, नाम की आधिकारिक ऐलान अभी नहीं हुआ है। सीएम शिवराज सिंह चौहान और ज्योतिरादित्य सिंधिया के साथ ही बीजेपी के दिग्गज नेता मप्र में डेरा जमाये हुए हैं, वही कांग्रेस की ओर से चुनाव प्रचार का जिम्मा कमलनाथ ने संभाल रखा हैं।
मप्र में पहली बार इतने स्तर पर क्यों हो रहा चुनाव
मप्र में 28 सीटों पर विधानसभा उपचुनाव होने वाले हैं। पहली बार मप्र में इतने बड़े पैमान पर उपचुनाव हो रहे हें। इस वजह से मप्र में मार्च में हुआ राजनैतिक फेरबदल है। दरअसल, इसी वर्ष 10 मार्च को ज्योतिरादित्य सिंधिया के साथ कांग्रेस के 22 विधायकों ने पार्टी से इस्तीफा देकर बीजेपी का दामन थामा था। इसके बाद अल्पमत में आई कमलनाथ सरकार गिर गयी थी।
कांग्रेस विधायकों के इस्तीफा देने से 22 विधानसभा सीटें रिक्त होने के बाद जुलाई में बड़ा मलहरा से कांग्रेस विधायक प्रद्युम्नसिंह लोधी और नेपानगर से कांग्रेस विधायक सुमित्रा देवी कसडेकर ने भी कांग्रेस छोड़ कर बीजेपी ज्वाइन कर ली थी। फिर मांधाता विधायक ने भी कांग्रेस छोड़ कर बीजेपी का दामन थाम लिया था। इसके अलावा 3 विधायकों का निधन हो गया यानी कि 28 विधानसभा सीटें खाली हो गयी हैं।

इन 28 सीटों पर हो रहे हैं उपचुनाव

सीट2018 में जीते सदस्यउपचुनाव क्यों?
ग्वालियर प्रद्युम्न सिंह तोमर कांग्रेस छोड़कर भाजपा में गए
डबरा इमरती देवी कांग्रेस छोड़कर भाजपा में गए
बमोरी महेंद्र सिंह सिसोदिया कांग्रेस छोड़कर भाजपा में गए
सुरखी गोविंद सिंह राजपूत कांग्रेस छोड़कर भाजपा में गए
सांची प्रभुराम चौधरी कांग्रेस छोड़कर भाजपा में गए
सांवेर तुलसीराम सिलावट कांग्रेस छोड़कर भाजपा में गए
सुमावली एदल सिंह कंषाना कांग्रेस छोड़कर भाजपा में गए
मुरैना रघुराज सिंह कंषाना कांग्रेस छोड़कर भाजपा में गए
दिमनी गिर्राज दंडौतिया कांग्रेस छोड़कर भाजपा में गए
अम्बाह कमलेश जाटव कांग्रेस छोड़कर भाजपा में गए
मेहगांव ओपीएस भदौरिया कांग्रेस छोड़कर भाजपा में गए
गोहद रणवीर जाटव कांग्रेस छोड़कर भाजपा में गए
ग्वालियर पूर्वमुन्नालाल गोयल कांग्रेस छोड़कर भाजपा में गए
भांडेर रक्षा संतराम सरौनिया कांग्रेस छोड़कर भाजपा में गए
करेरा जसमंत जाटव छितरी कांग्रेस छोड़कर भाजपा में गए
पोहरी सुरेश धाकड़ कांग्रेस छोड़कर भाजपा में गए
अशोक नगर जजपाल सिंह जज्जी कांग्रेस छोड़कर भाजपा में गए
मुंगावली बृजेंद्र सिंह यादव कांग्रेस छोड़कर भाजपा में गए
अनूपपुर बिसाहूलाल सिंह कांग्रेस छोड़कर भाजपा में गए
हाटपिपल्या मनोज नरायण चौधरी कांग्रेस छोड़कर भाजपा में गए
बदनावर राजवर्धन सिंह कांग्रेस छोड़कर भाजपा में गए
सुवासरा हरदीप सिंह डंग कांग्रेस छोड़कर भाजपा में गए
मलहरा प्रद्युम्न सिंह लोधी कांग्रेस छोड़कर भाजपा में गए
नेपानगर सुमित्रा देवी कास्डेकर कांग्रेस छोड़कर भाजपा में गए
मंधाता नारायण पटेल कांग्रेस छोड़कर भाजपा में गए
जौरा बनवारीलाल शर्मा निधन
आगर मनोहर ऊंटवाल निधन
ब्यावरा गोवर्धन दांगी निधन


टिप्पणियां

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

मुरैना में 10, ग्वालियर और भिंड में 7-7, शिवपुरी व श्योपुर में 1-1 संक्रमित