स्वास्थ्य मंत्री ने कहा- नई साल के शुरू में ही मिलेंगी एक से ज्यादा कोरोना वैक्सीन

नई दिल्ली। देश में कोरोना वैक्सीन की तैयारी जोरों पर चल रही है और अगले साल के शुरू में इसके बाजार में उपलब्ध होने की उम्मीद है। बता दें कि ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी की वैक्सीन रेस में काफी आगे है। भारत बायोटेक, सीरम इंस्टिट्यूट ऑफ इंडिया और जायडस कैडिला देसी वैक्सीन की खोज में जुटे हुए हैं। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉक्टर हर्षवर्धन ने आज ग्रुप ऑफ मिनिस्टर्स की बैठक में यह जानकारी दी। न्यूज एजेंसी एएनआई ने हेल्थ मिनिस्टर के हवाले से कहा, 'हमें उम्मीद है कि अगले साल के शुरू तक देश को एक से ज्यादा कोरोना वैक्सीन मिल सकती है। हमारे विशेषज्ञ वैक्सीन के वितरण के लिए योजना बना रहे हैं।'
WHO की मुख्य वैज्ञानिक सौम्या विश्वनाथन ने भी उम्मीद जताई थी कि जानलेवा कोरोना वायरस की वैक्सीन 2020 के अंत या अगले साल के शुरू रजिस्ट्रेशन के लिए उपलब्ध होगी। उन्होंने कहा, 'जैसाकि आपको पता है कि 40 वैक्सीन कंपनियां क्लीनिकल स्टेज के कई चरणों में हैं। इनमें से 10 वैक्सीन परीक्षण के तीसरे चरण में हैं। ये वैक्सीन सुरक्षित भी दिख रहे हैं और अच्छे परिणाम परीक्षणों में मिले हैं।' बता दें कि इससे पहले हर्षवर्धन ने कहा था कि केंद्र सरकार राज्य सरकारों से डेटा हासिल कर रही है ताकि वैक्सीन के तैयार होने पर इसका सही तरीके से वितरण हो सके। उन्होंने कहा था कि हमारी सर्वोच्च प्राथमिकता ये है कि कैसे देश में सभी कोरोना वैक्सीन उपलब्ध कराई जाए।'

टिप्पणियां

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

डॉ. कलाम की स्मृति में स्कूलों में मनेगा राष्ट्रीय आविष्कार सप्ताह