कश्मीर में इनकम टैक्स का छापा, करोड़ों की नगदी और दस्तावेज बरामद


श्रीनगर. इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ने जम्मू कश्मीर के एक बिजनेस ग्रुप के 15 ठिकानों पर छापामार कार्यवाही की ह। इनमें से 14 ठिकाने श्रीनगर और एक दिल्ली में बना था।
सेन्ट्रल बोर्ड ऑफ डायरेक्ट टैक्सेशन (सीबीडीटी) के अनुसार गुरूवार को की गयी इस छापेमारी में 1 करोड़ 82 लाख रूपये कैश और 74 लाख रूपये बरामद किये गये है। आईटी टीम केअनुसार जिस बिजनेस ग्रुप के ठिकानों पर छापेमारी हुई। वह रियल एस्टेट, होटल इंडस्टी, हैण्डीक्राफ्टस, कॉरपेट ट्रेडिंग से जुडा हुआ है। बिजनेस ग्रुप के ठिकानों से बरामद कैश और गोल्ड का अभी तक कोई हिसाब किताब नहीं मिला है।
रोशनी एक्ट का लाभ उठाकर अरबों की जमीन हथिया ली
आईटी डिपार्टमेंट के अनुसार बिजनेस ग्रुप के पास 105 करोड़ रूपये के निवेश कागजात भी मिले । इन निवेश का कहीं कोई लेखा जोखा उपलब्ध नहीं हुआ। सीबीडीटी ने बिजनेस ग्रुप का नाम लिये बिना कहा है कि उस ग्रुप का श्रीनगर में 75 हजार वर्ग फीट का शॉपिंग मॉल है। यह जमीन ''रोशनी एक्ट'' का दुरूपयोग करके कौडि़यों के भाव खरीदी गयी थी। छापेमारी के बीच इस मॉल के निर्माण में 25 करोड़ रूपये भी खर्च किये गये। यह धनराशि कहां से जुटाई गयी और इसका भी कहीं कोई हिसांब-किताब नहीं मिला।
बिजनेस ग्रुप स्कूल और रेसींडेशियल टॉवर चलाता है
सीबीडीटी नेकहा है कि जांच में मालूम पड़ा कि बिजनेस ग्रुप श्रीनगर में 6 रेजिडेंशियल टॉवर का भी निर्माण कर रहा है। इनमें से 2 टॉवर में 50 फ्लैट बनकर तैयार हो चुके हैं। इन टॉवर्स का भी आईटी रिटर्न मेंकोई उल्लेख नहीं किया गया है। पहली नजर में पता लगा है कि इन टॉवर्स केनिर्माण कार्य में लगभग 20 करोड़ रूपये की धनराशि खर्च की जा रही है। छापेमारी में यह भी पता चला कि बिजनेस ग्रुप एक स्कूल भी संचालित कर रहा है, जो इनकम टैक्स एक्ट केतहत रजिस्टर्ड नहीं हैं।
फर्जी लेनदेन दस्तावेज मिले
स्कूल के लिये बने ट्रस्ट के एक सदस्य ने स्वीकार किया है कि वहां से धनराशि डायवर्ट कर दूसरे बिजनेस प्रोजेक्ट में लगाई गयी है। प्रथम दृष्टया पता लगा है कि इस स्कूल के निर्माण में बिना हिसाब किताब वालेक 10 करोड़ रूपये खर्च किये गये हैं। जांच में 50 करोड़ रूपये की फर्जी रसीद और पेमेंट के दस्तावेज भी जब्त किये गये। जांच एजेंसी को छापेमारी में 3 लॉकर का भी पता चला, जिन्हें सील कर दिया गया हैं।


टिप्पणियां

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

जयप्रकाश एवं आदित्य श्रीवास्तव अखिल भारतीय कायस्थ महासभा के प्रदेश सचिव मनोनीत