हाथरस में पुलिस से भिड़े राष्ट्रीय जनता दल के कार्यकर्ता, जयंती चौधरी घायल


हाथरस। हाथसर मामला देशभर में गरमाता जा रहा है। रविवार को रेप पीड़िता के परिजन से मुलाकात करने गए समाजवादी पार्टी और राष्ट्रीय लोकदल के कार्यकर्ताओं का पुलिस के साथ टकराव हो गया। पुलिस के लाठीचार्ज में एसपी जिलाध्यक्ष गिरीश यादव समेत कई लोग जख्मी हो गए हैं। आरएलडी नेता जयंत चौधरी पर भी पुलिस ने लाठियां बरसाईं, हालांकि कार्यकर्ताओं ने उन्हें बचाते हुए घेरा बना लिया। हाथरस में पीड़िता के गांव में राष्ट्रीय लोक दल नेता जयंत चौधरी भी पहुंचे हुए हैं। उन्होंने पीड़ित परिजन से घर के अंदर बैठकर मुलाकात की। इस दौरान गांव में आरएलडी और सपा कार्यकर्ताओं का भारी हंगामा हुआ। पुलिस ने जयंत चौधरी पर भी लाठीचार्ज की कोशिश की। पूर्व सांसद और आरएलडी नेता जयंत चौधरी और कार्यकर्ताओं पर पुलिस का लाठीचार्ज। जयंत चौधरी को बचाने के लिए आरएलडी कार्यकर्ताओं ने घेरा बना लिया। इस दौरान पुलिसकर्मी लगातार लाठीचार्ज करते रहे।
हाथरस सदर के एसडीएम प्रेम प्रकाश मीणा ने लाठीचार्ज के बारे में बताया, 'गांव में अभी 5 से अधिक लोगों के प्रतिनिधिमंडल को जाने की इजाजत नहीं है। हमें समाजवादी पार्टी और RLD के 5 लोगों के नाम मिले थे। तभी कार्यकर्ताओं ने महिला पुलिसकर्मियों के साथ दुर्व्यवहार किया और बैरिकेडिंग तोड़ डाली। पत्थरबाजी भी की गई। हमारे एक CO घायल हुए हैं। भीड़ को नियंत्रण में लेने के लिए हमें लाठीचार्ज करना पड़ा। अभी हालात सामान्य हैं।' बताया जा रहा है कि काफी संख्या में पहुंचे कार्यकर्ताओं ने हंगामा शुरू कर दिया और बैरिकेडिंग तोड़ दी। इसके बाद पुलिस ने दौड़ाकर लाठियां भांजनी शुरू कर दी। गौरतलब है कि एक दिन पहले ही कांग्रेस नेता राहुल गांधी और प्रियंका गांधी ने भारी हंगामे के बीच पीड़ित परिजन से मुलाकात की।

टिप्पणियां

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

मुरैना में 10, ग्वालियर और भिंड में 7-7, शिवपुरी व श्योपुर में 1-1 संक्रमित