अमेरिका और फ्रांस में कोरोना के रिकॉर्ड केस, यूरोप में दूसरी लहर से दहशत

वॉशिंगटन। कोरोना वायरस की चपेट से उबरने के लिए लाख उपाय करने के बावजूद भी अमेरिका में संक्रमण की रफ्तार कम नहीं हो रही है। जॉन्स हॉपकिन्स यूनिवर्सिटी की रिपोर्ट के अनुसार, शनिवार को अमेरिका में कोरोना वायरस संक्रमण के 83,000 से ज्यादा नए मामले सामने आए हैं। यह एक दिन में अमेरिका में दर्ज हुए कोरोना मरीजों की सबसे ज्यादा संख्या है। उधर, फ्रांस में भी शनिवार को कोरोना वायरस के रिकॉर्ड मामले दर्ज किए गए हैं। फ्रांस में कोरोना वायरस का कहर लगातार बढ़ता ही जा रहा है। पिछले एक दिन में फ्रांस में कोरोना वायरस के 45 हजार नए मामले दर्ज किए गए हैं। जो संक्रमितों की संख्या में एक दिन में रिकॉर्ड वृद्धि है। ब्रिटेन की नेशनल हेल्थ सर्विस के अनुसार, पिछले 24 घंटे में कोरोना वायरस के 23012 मामले सामने आए हैं। अभी चार दिन पहले ही ब्रिटेन में 26688 मरीज मिले थे जो अब तक की एक दिन में सबसे ज्यादा मरीजों की संख्या है।
जॉन्स हॉपकिन्स विश्वविद्यालय की ओर से प्रकाशित आंकड़ों के मुताबिक अमेरिका में कोविड-19 से मृतकों की संख्या बढ़कर अब 223,995 हो गई। शुक्रवार को इसके अनुसार 83,757 नए मामले सामने आए जो 16 जुलाई के 77,362 मामलों से ज्यादा है। देश के प्रत्येक हिस्से में इसका प्रभाव पड़ रहा है। फ्लोरिडा में स्वास्थ्य अधिकारियों ने लोगों से अपील की है कि वे अपने बच्चों के जन्मदिन के अवसर पर पार्टियां न करें। वहीं उत्तरी इडाहो में एक अस्पताल में मरीजों की संख्या इतनी बढ़ गई है कि जगह की कमी हो रही है और मरीजों को हेलीकॉप्टर से सियेटल, पोर्टलैंड, ओरेगन भेजने के बारे में विचार किया जा रहा है। अमेरिका में नये दैनिक औसत मामले बृहस्पतिवार को 61,140 के पार चला गया जबकि दो सप्ताह पहले यही औसत 44,647 था। इससे पहले 22 जुलाई को यह औसत 67,293 था।

टिप्पणियां

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

जयप्रकाश एवं आदित्य श्रीवास्तव अखिल भारतीय कायस्थ महासभा के प्रदेश सचिव मनोनीत