पुलिस ने हाथरस जाने पर अड़े राहुल गांधी को यमुना एक्सप्रेस-वे पर किया अरेस्ट


लखनऊ। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी और प्रियंका गांधी गुरुवार को हाथरस गैंगरेप पीड़िता के परिजनों से मिलने जा रहे थे। उत्तर प्रदेश पुलिस ने उन्हें ग्रेटर नोएडा पर रोक दिया गया है। वहां से राहुल गांधी और प्रियंका गांधी पैदल मार्च कर जा रहे थे। इस दौरान पुलिस ने राहुल गांधी को अरेस्ट कर लिया। नोएडा ADCP रणविजय सिंह ने कहा कि यहां महामारी अधिनियम का उल्लंघन हो रहा है। माननीय हाई कोर्ट की अवमानना हो रही है। अभी हम इनको यहां से आगे नहीं जाने देंगे। उधर, राहुल गांधी ने कहा कि अभी पुलिस वालों ने मुझे धकेल के लाठी मारकर गिराया ठीक है, मैं कुछ नहीं कह रहा हूं, कोई प्रॉब्लम नहीं। इस हिंदुस्तान में क्या RSS और BJP के लोग ही चल सकते हैं? क्या आम आदमी नहीं चल सकता? क्या इस देश में नरेंद्र मोदी ही पैदल जा सकते हैं? उधर, इस दौरान प्रियंका गांधी ने कहा कि महिलाओं की सुरक्षा की जिम्मेदारी योगी सरकार को लेनी होगी, जिस तरह से प्रदेश में महिलाओं के साथ अत्याचार हो रहें, ये बंद होने चाहिए। यही स्थिति पिछले साल भी थी। पिछले साल तकरीबन इसी समय हम उन्नाव की बेटी की लड़ाई लड़ रहे थे। प्रदेश में हर रोज़ 11 रेप हो रहे हैं। उधर, जिला प्रशासन ने हाथरस में गैंगरेप पीड़िता के घर पर किसी के भी जाने पर पूरी तरह से रोक लगाई गई। घर का इलाका बेरिकेडिंग करके सील किया। इसके साथ ही पूरे जिले में धारा-144 लागू कर सीमाएं सील कर दी गई हैं। इस दौरान मीडिया की एंट्री पर भी रोक दी गई है।

टिप्पणियां

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

मुरैना में 10, ग्वालियर और भिंड में 7-7, शिवपुरी व श्योपुर में 1-1 संक्रमित