दिग्विजय सिंह के बयान पर सिंधिया का पलटवार, कहा- हम जनता के सेवक हैं

ग्वालियर। दमोह से कांग्रेस विधायक रहे राहुल लोधी के पार्टी छोड़कर बीजेपी में शामिल होने पर पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने ट्वीट किया, जिसमें उन्होंने सीएम शिवराज पर हमला बोलते हुए काली कमाई से विधायक को खरीदने का आरोप लगाया. पूर्व सीएम दिग्विजय सिंह ने ट्वीट करते हुए लिखा कि 'मामा के झोले की काली कमाई में एक और विधायक बिका' और सिंधिया घोटाले बाजों के साथ मिल गए हैं'. जिसकों लेकर अब सियासत गरमाने लगी है. बीजेपी लगातार दिग्विजय सिंह पर निशाना साधा रही है. सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने भी पलटवार किया है.
सिंधिया का कहना है कि, 'प्रजातंत्र में हर व्यक्ति को बोलने का अधिकार है, मैं उनमें से नहीं हूं जो अवसरवादी नेता होते हैं. जिनकी टीका टिप्पणी करने की आदत होती है. उनकी टीका टिप्पणी उन्हें सलामत रहे और हमें अपना काम करना है. विकास का काम, प्रगति का काम और जनता की सेवा करना. जिसमें हम पिछले 6 महीने से लगे हुए हैं और जीवन भर लगे रहेंगे'.
दिग्विजय सिंह के ट्वीट के बाद बीजेपी, कांग्रेस पर लगातार निशाना साध रही है. प्रोटेम स्पीकर रामेश्वर शर्मा ने ट्वीट करते हुए कांग्रेस पर 1992 में बीजेपी की दिल्ली,उत्तर प्रदेश,हिमाचल प्रदेश,मध्यप्रदेश एवं राजस्थान की तत्कालीन सरकारों को एक झटके में गिराने का आरोप लगाते हुए कहा है कि, 'आज कांग्रेस लोकतंत्र की दुहाई दे रही है'. इसके साथ ही उन्होंने लिखा है कि, 'दिल से क्यों उतर रहा दल, इस पर विचार करो, नहीं तो राम नाम सत्य है'.

टिप्पणियां

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

जयप्रकाश एवं आदित्य श्रीवास्तव अखिल भारतीय कायस्थ महासभा के प्रदेश सचिव मनोनीत