मप्र में लव जिहाद होगा अपराध, अगले साल आयेगा विधेयक, पांच साल की सजा का प्रावधान

भोपाल। मप्र की शिवराज सरकार लव जिहाद पर सख्त कदम उठाने जा रही है।  मध्यप्रदेश के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा है कि अगले विधानसभा सत्र में ‘लव जिहाद’ को लेकर विधेयक लाया जाएगा। मिश्रा ने कहा कि ‘लव जिहाद’ विधेयक में 5 साल की सजा का प्रावधान रहेगा, साथ ही केस गैर जमानती धाराओं में दर्ज होगा। मिश्रा के मुताबिक, विधेयक में लव जिहाद जैसे मामलों में सहयोग करने वाला भी मुख्य आरोपी माना जाएगा। इसलिए ऐसे व्यक्ति को अपराधी मानते हुए मुख्य आरोपी की तरह ही सजा होगी। वहीं, उन्होंने कहा कि शादी के लिए धर्मांतरण कराने वालों को भी सजा देने का प्रावधान इसमें रहेगा।
मिश्रा ने बताया कि कई मामलों में देखा गया है कि युवतियां स्वेच्छा से धर्मांतरण कर शादी करना चाहती है। ऐसे मामलों को देखते हुए कानून में यह प्रावधान भी होगा कि अगर कोई स्वेच्छा से शादी के लिए धर्म परिवर्तन करना चाहता है, तो उसे एक माह पहले कलेक्टर के यहां आवेदन देना होगा। धर्मांतरण कर शादी करने के लिए कलेक्टर के यहां यह आवेदन देना अनिवार्य होगा और बिना आवेदन के अगर धर्मांतरण किया गया तो सख्त कार्रवाई होगी। इसके पहले कर्नाटक और हरियाणा ने भी कहा था कि वो ‘लव जिहाद’ को लेकर कानून लाने पर विचार कर रहे हैं।

टिप्पणियां

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

जयप्रकाश एवं आदित्य श्रीवास्तव अखिल भारतीय कायस्थ महासभा के प्रदेश सचिव मनोनीत