सिंधिया को भोपाल में बंगला मिलते ही सीएम को लेकर होने लगी कयासबाजी

भोपाल। 15 महीने बाद ही सही दोबारा बीजेपी को सत्ता दिलाने वाले ज्योतिरादित्य सिंधिया आने वाले समय में मुख्यमंत्री पद के लिए चेहरा हो सकते हैं. ऐसे कयास अब राजनीतिक गलियारों में लगाए जाने लगे हैं. ऐसा इसलिए की बीजेपी ने सिंधिया को ज्वाइनिंग के बाद से ही हाथों-हाथ लिया. सरकार बनने के बाद शिवराज की कैबिनेट में सबसे प्रमुख विभाग सिंधिया समर्थक मंत्री को दिए गए, उसके बाद सिंधिया को राज्यसभा भेजा गया और अब सिंधिया को श्यामला हिल में बंगला भी अलॉट कर दिया गया.
राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया को आखिरकार भोपाल में सरकारी बंगला मिल गया. सिंधिया बंगले के लिए करीब ढाई साल से इंतजार कर रहे थे, लेकिन कांग्रेस सरकार के दौरान भी सिंधिया को बंगला नहीं मिला. अब बीजेपी में शामिल होने के कुछ दिनों बाद ही सिंधिया को सरकारी बंगला अलॉट कर दिया गया. सिंधिया का बंगला श्यामला हिल्स में है, जहां पर पूर्व मुख्यमंत्री उमा भारती, पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह, पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ के अलावा खुद प्रदेश के मुखिया यानी मुख्यमंत्री निवास है. ऐसे में कहीं ना कहीं इन सब दिग्गजों के बीच सिंधिया का बंगला भी उनके कद को दिखा रहा है.
दो पूर्व मुख्यमंत्रियों के बीच मे रहेंगे सिंधिया : भाजपा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया दो दिग्गज पूर्व मुख्यमंत्रियों के बीच में रहेंगे. जहां पर सिंधिया को बंगला अलॉट किया गया है, उसके एक तरफ बी-6 में पूर्व मुख्यमंत्री उमा भारती रहती हैं, वहीं दूसरी तरफ B-1 में पूर्व सीएम दिग्विजय सिंह रहते हैं. सिंधिया का यह बंगला इन दोनों नेताओं के बंगले से बड़ा है. करीब डेढ़ एकड़ में फैले इस बंगले को सिंधिया का नया पावर सेंटर के रूप में भी देखा जा रहा है

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

500 करोड के कार्यो का भूमिपूजन व विभिन्न लोकार्पण करेंगे मुख्यमंत्री