जिला पंचायत की चेयरमैन का पति भाजपा नेता भू-माफिया, केस दर्ज

ग्वालियर। जिला पंचायत की चेयरमैन मनीषा यादव का पति और भारतीय जनता पार्टी का नेता भुजबल सिंह यादव ईमानदार समाजसेवी है या फिर भूमाफिया, पुलिस इन्वेस्टिगेशन के बाद पता चलेगा क्योंकि मनोज यादव की शिकायत पर भुजबल सिंह यादव के खिलाफ जमीन पर अवैध कब्जा करने, धोखाधड़ी और धमकाने का मामला दर्ज किया गया है।
ग्वालियर के साकेत नगर निवासी मनोज यादव ने पुलिस को बताया वह जिला पंचायती राज कार्यालय इटावा, यूपी में सलाहकार हैं। उनकी पत्नी बरेली यूपी में मत्सय विभाग में उपनिदेशक हैं। उनकी एक बीघा जमीन बड़ागांव हाइवे पुल के पास है। दंपती यूपी में ही रहते हैं, इसलिए जमीन की देखरेख करने वाला कोई नहीं है। इसका फायदा जिला पंचायत अध्यक्ष मनीषा यादव के पति भुजबल सिंह यादव ने उठाकर साथी संतोष की मदद से उनकी जमीन पर कब्जा किया है। उनकी जमीन के दोनों तरफ कच्ची सड़क बनवाई और तहसील स्तर पर जमीन के गलत नक्शे बनवाकर उसे बेचने की कोशिश कर रहे हैं। मनोज ने पुलिस को बताया कि जमीन पर कब्जा करने से रोका तो भुजबल ने उन्हें धमकाया, कहा कि तुम्हारी जमीन का सौदा कर दिया है, तुम्हारे हिस्से की रकम पहुंच जाएगी। जबकि उन्होंने जमीन का कोई सौदा नहीं किया है।
मनोज यादव ने पुलिस को बताया कि जबरिया जमीन पर कब्जे की शिकायत कलेक्टर कौशलेन्द्र विक्रम सिंह से भी की थी। बताया था कि भुजबल ने उनकी जमीन पर कब्जा कर लिया है। इसमें आरआई पटवारी भी गैर कानूनी तरीके से भुजबल की मदद कर रहे हैं। मनोज यादव की शिकायत पर मामले की जांच की गई थी। मंगलवार को खुरैरी हल्का नंबर 113 के पटवारी गौरव चौहान अपर तहसीलदार वृत बडागांव मुरार के आदेश पर मनोज को साथ लेकर मुरार थाने पहुंचे और FIR दर्ज कराई। एसपी ग्वालियर अमित सांघी ने कहा है कि भुजबल सिंह और उनके साथी पर मुरार थाना में आईपीसी की धारा 420, 447, 506 और 34 के तहत के केस दर्ज किया।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

500 करोड के कार्यो का भूमिपूजन व विभिन्न लोकार्पण करेंगे मुख्यमंत्री